क्या चल रहा है ?
ट्रंप भी खड़े होकर ताली बजाने लगे - आखिर मोदी ने ऐसा क्या बोला - Howdy Modi | टूरिज्म के लिहाज से बिहार का गया क्यों बन चुका है इतना खास? | घर बैठकर आसानी से कैसे बुक करें फ्लाइट टिकट?... | घर बैठकर ऑनलाइन कैसे बुक करें रेल टिकट? | जानिए 2019 Honda Activa 125 कैसी है? | BCA-MCA करने से क्या फायदा है? | कुछ लोग बाएं हाथ का इस्तेमाल क्यों करते हैं? | क्या है परिवहन से जुड़ी हाइपरलूप तकनीक... | बॉलीवुड को मिली दूसरी लता मंगेशकर, गरीबी में कुछ ऐसी थी रानू मंडल की जिंदगी | क्या है 5G तकनीक? कैसे करती है काम? | सिर्फ 5 लाख रुपये से CCD के मालिक सिद्धार्थ ने कैसे खड़ा किया अरबों का कारोबार? | पाकिस्तानी दुश्मन के हाथ की घड़ी का वक्त भी देख लेगा भारत का ये सैटेलाइट | अनुच्छेद 370: अमित शाह ने इस बड़े कारण से लद्दाख को कश्मीर से अलग किया? | प्रधानमंत्री 15 अगस्त को लाल किले पर ही क्यों फहराते हैं तिरंगा? | भारत को 15 अगस्त 1947 की रात 12 बजे ही आजादी क्यों मिली? | पाकिस्तान 15 अगस्त को आजाद हुआ लेकिन 14 अगस्त का क्यों मनाता है स्वतंत्रता दिवस? | बिहार के रवीश कुमार ने नरेंद्र मोदी की बोलती की बंद! मिला रेमन मैग्सेसे अवार्ड | चांद पर एलियन का पता लगाएगा भारत का चंद्रयान-2? | चंद्रयान-2: अगर भारत को चांद पर मिली ये चीज तो दुनिया पर करेगा राज | लिफ्ट से चांद पर पहुंचना होगा आसान, चंद्रयान जैसे मिशन की भी जरूरत नहीं? |

अगर स्टडी में इंटरेस्ट नहीं हो तो ऐसे स्टूडेंट्स को क्या करना चाहिए?

आज के दौर में पढ़ना-लिखना काफी अहम माना जाता है. हालांकि आज भी पढ़ाई-लिखाई हर एक के बस की बात नहीं है. कई स्टूडेंट ऐसे होते हैं जो पढ़ाकू की कैटेगरी में आते हैं और एग्जाम में भी टॉप करते हैं.

आज के दौर में पढ़ना-लिखना काफी अहम माना जाता है. हालांकि आज भी पढ़ाई-लिखाई हर एक के बस की बात नहीं है. कई स्टूडेंट ऐसे होते हैं जो पढ़ाकू की कैटेगरी में आते हैं और एग्जाम में भी टॉप करते हैं. तो वहीं कुछ स्टूडेंट्स ऐसे भी होते हैं जिनकी स्टडी में बिल्कुल भी दिलचस्पी नहीं होती है. लेकिन ऐसा क्यों होता है कि कुछ स्टूडेंट्स पढ़ाई में तेज होते हैं तो कुछ पढ़ाई में बिल्कुल भी दिमाग नहीं लग पाते हैं? ऐसे में आज हम बात करने वाले हैं ऐसे स्टूडेंट्स को क्या करना चाहिए जो स्टडी में दिमाग तो लगाना चाहते हैं लेकिन उनका दिमाग पढ़ाई में बिल्कुल भी नहीं लग पाता...

मेडिटेशन

स्टडी में मन लगाने की अगर आपकी सारी कोशिशें नाकाम हो रही हैं तो आपको मेडिटेशन करना चाहिए. मेडिटेशन ध्यान लगाने की एक प्रक्रिया है. इसके तहत स्टूडेंट दिन में कम से कम एक बार शांत जगह बैठें. फिर अपनी दोनों आखें कम से कम 20 मिनट के लिए बंद कर ध्यान लगाने की कोशिश करें. इस दौरान आप बस अपनी सांस लेने और छोड़ने की प्रक्रिया को ही महसूस करते रहें. रोजाना ये प्रक्रिया करने पर आपका पढ़ाई में फोकस होने लगेगा.

मोबाइल

अगर आपकी पढ़ाई में रुचि नहीं बन पा रही है तो इसके लिए आपका मोबाइल भी काफी हद तक जिम्मेदार है. आप अपने स्मार्टफोन से दूरी बना लें. दिनभर चैटिंग, गेम्स, सोशल मीडिया इंसान के दिमाग को खोखला कर रही है, जिसके कारण स्टूडेंट्स की रुचि पढ़ाई में कम देखने को मिलती है. हालांकि स्मार्टफोन से दूरी बनाते ही पढ़ाई के लिए भी रुचि जागनी शुरू हो जाएगी.

दोस्तों, कमेंट बॉक्स में कमेंट कर जरूर बताएं कि आप कौनसे टॉपिक विस्तार से जानकारी चाहते हैं.

गाने

अगर आपकी पढ़ाई में रुचि नहीं है तो आपको अपनी पसंद के गाने सुनने चाहिए. आपके मनपंसद गाने आपको तनाव मुक्त करने का काम करेंगे. साथ ही यह आपको अच्छा फील करवाने के लिए भी काफी है. अच्छे और सॉप्ट गाना सुनने से आपका मन भी अच्छा रहेगा और आपको कुछ करने की हिम्मत भी हासिल होगा. जिसके बाद आपका मन भी पढ़ाई करने के लिए करने लगेगा.

घुमें

पढ़ाई करना भले ही कुछ लोगों को पसंद नहीं हो लेकिन घुमना हर किसी को पसंद होता है. ऐसे में अगर आपका इंटरेस्ट स्टडी में नहीं बन पा रहा है तो आपको थोड़े रिलेक्स माइंड के साथ कहीं घुमने निकल जाना चाहिए. इससे आपको ऊबाउ जिंदगी में थोड़ा नयापन का अहसास होगा. साथ ही नएपन के अहसास के साथ आपको आगे बढ़ने के लिए स्टडी की तरफ फोकस होने में भी मदद मिलेगा.

लोड न लें

कई स्टूडेंट्स अगर पढ़ाई में दिमाग नहीं लगा पा रहे हैं तो वे दिमाग पर लोड लेने लगते हैं और तनाव में आ जाते हैं. ऐसे में अच्छा होगा कि अपने सिर पर पढ़ाई का ज्यादा लोड न लें. इसका साफ-साफ मतलब यह है कि आप अपनी स्टडी को लेकर परेशान न रहें. आपकी परेशानी और तनाव जितना कम होगा, उतना ही ज्यादा आपका फोकस स्टडी के लिए होता जाएगा. स्टडी को लेकर लिया गया तनाव हमेशा नुकसान ही करता है. ऐसे में तनाव से बचना चाहिए.