इन देशों में होती है सबसे खौफनाक मिलिट्री ट्रेनिंग, जानकर आपकी रुह कांप उठेगी

सेना के फौजियों को कई तरह की कठिन ट्रेनिंग से होकर गुजरना पड़ता है, कुछ ट्रेनिंग तो ऐसी होती हैं जिसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती है. इस ट्रेनिंग के तहत इन्हें सांप को पकड़ना ही नहीं पड़ता, बल्कि पकड़ कर इसका खून भी पीना पड़ता है. मिलिट्री में एंट्री कहीं भी आसान नहीं होती है. उनकी ट्रेनिंग ऐसी होती है कि किसी के भी होश उड़ जाएं. हर किसी के लिए इस ट्रेनिंग को लेना आसान नहीं. आइए जानते हैं दुनिया में कौनसे देशों की मिलिट्री ट्रेनिंग सबसे खतरनाक होती है…

कोबरा का खून पीना

थाईलैंड के जंगलों में दो देश अमेरिका और थाइलैंड मिलकर खतरनाक मिलिट्री ट्रेनिंग करवाते है. इसका ट्रेनिंग का नाम कोबरा गोल्ड है. इसका उद्देश्य होता है कि सैनिकों को हर परिस्थिति के लिए मजबूत बनाया जा सके. ये ट्रेनिंग थाईलैंड के जंगलों में कराई जाती है. इस खतरनाक ट्रेनिंग में उन्हें यह सिखाया जाता है कि कोबरा का खून पीकर वो अपनी प्यास असानी से बुझा सकते हैं और पेट की आग को शांत करने के लिए उन्हें जिंदा मुर्गे को चीरकर खाने की ट्रेनिंग भी दी जाती है.

Statue of Unity के बारे में ये बातें जानकर आप रह जाएंगे हैरान

बुलेट खाना

रूस में मिलिट्री ट्रेनिंग आसान नहीं होती है. यहां की मिलिट्री ट्रेनिंग में जवानों को अपने सीने पर गोली तक खानी पड़ती है. दरअसल जवानों में आत्मविश्वास भरने के लिए ट्रेनिंग के दौरान उन्हें सीने पर बुलेट खानी होती है. इसके दौरान कई जवान घायल भी होते हैं. हालांकि अंदर वो बुलेट प्रूफ जैकेट पहने होते हैं लेकिन फिर भी ये अभ्यास काफी खतरनाक माना जाता है.

आग के ऊपर से गुजरना

यूरोप के बेलारूस में जवानों का काफी कठिन मिलिट्री ट्रेनिंग से गुजरना होता है. यहां की मिलिट्री ट्रेनिंग अच्छे-अच्छे की हवा टाइट कर देती है. दरअसल यहां कि मिलिट्री ट्रेनिंग में जवानों को जलती हुई लकड़ियों के ऊपर से गुजरने वाली रस्सी या चेन पर चलकर जाना होता है. साथ ही नीचे से गोलियां भी चलती रहती हैं. इनसे बचकर इस रस्सी को पार करना होता है.

बर्फ में कुश्ती

आपको अगर कहा जाए कि सर्दी के मौसम में बर्फ में आपको कुश्ती लड़नी है तो आपको कैसा लगेगा. आपको लगेगा की यह कोई मजाक है. हालांकि साउथ कोरिया और चीन जैसे देशों में मिलिट्री ट्रेनिंग के लिए यह कोई मजाक नहीं है. इन देशों में ठंड के दौरान मिलिट्री ट्रेनिंग के दौरान जवानों को बर्फ में कुश्ती लड़नी होती है. वहीं एक बात गौर करने लायक यह भी है कि यहां तापमान माइनस 30 डिग्री से भी नीचे चला जाता है.

हाथ और पैर बांधना

किसी इंसान के हाथ पैर बांधकर उसे खड़े रहकर पानी में तैरने के लिए कहा जाएगा तो हर किसी के लिए यह काफी कठिन होगा. हालांकि यूएस नेवी में जवानों को काफी मुश्किल ट्रेनिंग से गुजरना होता है. यहां जवानों को पानी के अंदर खड़े होकर तैरना होता है. इस दौरान उनके हाथों और पैरों को बांध दिया जाता है. ये ट्रेनिंग उन्हें पांच से दस बार करनी होती है. जिस पूल में उन्हें डाला जाता है वो नौ फीट गहरी होती है.

दोस्तों कमेंट बॉक्स में कमेंट कर जरूर बताएं कि भारत की राजधानी का नाम क्या है.

(Visited 175 times, 1 visits today)

सुझाव कॉमेंट करें

About The Author

आपके लिए :