क्या चल रहा है ?
गूगल पर ये बात बिल्कुल भी न करें सर्च, हो सकती है जेल! | ट्रंप भी खड़े होकर ताली बजाने लगे - आखिर मोदी ने ऐसा क्या बोला - Howdy Modi | टूरिज्म के लिहाज से बिहार का गया क्यों बन चुका है इतना खास? | घर बैठकर आसानी से कैसे बुक करें फ्लाइट टिकट?... | घर बैठकर ऑनलाइन कैसे बुक करें रेल टिकट? | जानिए 2019 Honda Activa 125 कैसी है? | BCA-MCA करने से क्या फायदा है? | कुछ लोग बाएं हाथ का इस्तेमाल क्यों करते हैं? | क्या है परिवहन से जुड़ी हाइपरलूप तकनीक... | बॉलीवुड को मिली दूसरी लता मंगेशकर, गरीबी में कुछ ऐसी थी रानू मंडल की जिंदगी | क्या है 5G तकनीक? कैसे करती है काम? | सिर्फ 5 लाख रुपये से CCD के मालिक सिद्धार्थ ने कैसे खड़ा किया अरबों का कारोबार? | पाकिस्तानी दुश्मन के हाथ की घड़ी का वक्त भी देख लेगा भारत का ये सैटेलाइट | अनुच्छेद 370: अमित शाह ने इस बड़े कारण से लद्दाख को कश्मीर से अलग किया? | प्रधानमंत्री 15 अगस्त को लाल किले पर ही क्यों फहराते हैं तिरंगा? | भारत को 15 अगस्त 1947 की रात 12 बजे ही आजादी क्यों मिली? | पाकिस्तान 15 अगस्त को आजाद हुआ लेकिन 14 अगस्त का क्यों मनाता है स्वतंत्रता दिवस? | बिहार के रवीश कुमार ने नरेंद्र मोदी की बोलती की बंद! मिला रेमन मैग्सेसे अवार्ड | चांद पर एलियन का पता लगाएगा भारत का चंद्रयान-2? | चंद्रयान-2: अगर भारत को चांद पर मिली ये चीज तो दुनिया पर करेगा राज |

जाने उन 5 देशों के बारे में जो आने वाले 40 वर्षो में लुप्त हो जाएंगे?

, वर्तमान समय पर नज़र डाली जाए तो आज दुनिया के हर देश के बीच एक competition का माहौल बन चुका है। हर कोई समय बीतने के साथ-साथ अपनी स्थिति को मजबूत करने की कोशिश में है। चाहे natural resources की बात की जाए या फिर आर्थिक समस्या की, हर कोई इन दो मामलों में अपनी पकड़ को मजबूत करने में लगा है। तो इसके अलावा एक और पहलू है आतंकवाद का भी। हम देख ही रहें है कि कैसे कुछ देशों ने लड़ाई- झगड़े और आतंकवाद के चगुल में फँसकर अपने अस्तित्व को दाव पर लगा दिया है। तो चलिये जानते है कि वो कौन कौन से देश है जो आने वाले 30 से 40 वर्षों में समाप्त हो जाएंगे।

दोस्तों, वर्तमान समय पर नज़र डाली जाए तो आज दुनिया के हर देश के बीच एक competition का माहौल बन चुका है। हर कोई समय बीतने के साथ-साथ अपनी स्थिति को मजबूत करने की कोशिश में है। चाहे natural resources की बात की जाए या फिर आर्थिक समस्या की, हर कोई इन दो मामलों में अपनी पकड़ को मजबूत करने में लगा है। तो इसके अलावा एक और पहलू है आतंकवाद का भी। हम देख ही रहें है कि कैसे कुछ देशों ने लड़ाई- झगड़े और आतंकवाद के चगुल में फँसकर अपने अस्तित्व को दाव पर लगा दिया है। तो चलिये जानते है कि वो कौन कौन से देश है जो आने वाले 30 से 40 वर्षों में समाप्त हो जाएंगे।

इराक: सूची में अगर इस देश को सबसे ऊपर रखा जाए तो गलत नहीं होगा। विभाजित हो चूके इस देश के फिर से एक होने की अब संभावना नहीं रही। बता दें कि देश के पश्चिमी हिस्से पर जहां ISIS के आतंकवादी संगठन का कब्जा है। तो वही दूसरी तरफ इसके उत्तरी हिस्से पर कूर्द लोगों का कंट्रोल है। सरकार की पहुँच सिमट कर दक्षिण इराक तक रह गई है। यहाँ शिया, सुन्नी, और कूर्द लोगों के बीच का टकराव खुद देश को नुकसान पहुंचा रहा है।

नार्थ कोरिया: North Korea के हाल-चाल को भी दुनिया के बाकी देश समझ चुके है। जहां तानाशाह किम जोंग की हकूमत के आगे सब बेबस है। वहाँ रहने वालों को इस तानाशाही की अच्छी आदत हो चुकी होगी, बेशक वो इसे पसंद करे न करे। बता दें कि इस देश ने अपनी आर्थिक व्यवस्था को अपने तक समेट कर रखा है। जिसका नुकसान इसे आगे आने वाले वर्षों में होने वाला है। तकनीकी क्षेत्र में यह देश पिछड़ रहा है। बाकी अगर यह अपने व्यापार के रास्ते चीन औऱ अन्य देशों के लिए नहीं खोलता तो आर्थिक तौर पर भी इसे झटका लगेगा।

लीबिया: उत्तर अफ्रीका में बसा ये देश भी पतन की दिशा में बढ़ते दिख रहा है। गृहयुद्ध की मार झेल रहें इस देश के अगले 30-40 सालों में खत्म होने के संभावना को मजबूती मिल रही है। जातीय संघर्ष भी एक बड़ी समस्या है, जो इस देश को विभाजित करने में लगी है।

बेल्जियम: यूरोप में स्थित इस खूबसूरत देश का नाम इस लिस्ट में देख कुछ लोगों को हैरानी ज़रूर हो सकती है। लेकिन यहाँ भी जनता, सरकार और third पार्टी के बीच विवादित रिश्ता देखने को मिलता है। जिसका एक बड़ा सबूत यह है कि साल 2013 में विरोधी राजनेता जोकि  गठबंधन को तैयार नहीं थी और इसी कारण वहाँ 589 दिनों तक बगैर सरकार के देश चला था। इस देश के अब यूरोप फ्लाण्डर्स और वॉलोनिया में विभाजित होने की संभावना बन रही है।

द इस्लामिक स्टेट: इस नाम को एक विवादित मुद्दे के तौर पर हमेशा से जाना जा रहा है। बिना मान्यता पाए इस जगह पर जिहादियों से लड़ने वाले दुश्मनो की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यहाँ होने वाले युद्ध, लड़ाई-झगड़े देश को खोखला करते जा रहे है। अगर इराक, कुरदितान, और सीरिया सरकार,सऊदी अरब, ईरान और अमरीकी सेना के साथ गठबंधन नहीं करते है तो इसमें कोई संदेह नहीं कि आने वाले 30 सालों में ये देश खतम हो जाएगा।

**********