Home Fun इंसानों की भाषा भी बोलते हैं पक्षी, सुनकर हैरान रह जाएंगे

इंसानों की भाषा भी बोलते हैं पक्षी, सुनकर हैरान रह जाएंगे

by Gwriter

दोस्तों, क्या आपको पता है कि धरती पर सिर्फ इंसान ही एक ऐसी प्रजाति नहीं है जिसमें बदलते वक्त के साथ बुद्धि का विकास हुआ है. इस धरती पर कई ऐसी जीव-जंतु, जानवर और पक्षी भी मौजूद हैं, जिन्होंने समय के बदलाव को अपनाया है. साथ ही उनमें हुनर की भी कोई कमी नहीं है. दोस्तों, कई जानवर और पक्षी है जो इंसानों जितना हुनरमंद तो नहीं लेकिन उनसे कम भी नहीं है. दोस्तों, आज हम कुछ पक्षियों के बारे में आपको बताएंगे. हमें यह तो पता ही है कि हमारे पूर्वज बंदर हैं. उनसे ही मनुष्य का जीवन शुरू हुआ है. हालांकि बदलते वक्त के साथ इंसानों ने खुद में भी तेजी से परिवर्तन किया है. साथ ही समय के हिसाब से खुद का विकास भी किया है. लेकिन यह भी सच है कि इस धरती पर मौजूद कुछ जानवरों और पक्षियों का मुकाबला इंसान आज भी नहीं कर सकता है. चलिए दोस्तों, आज हम कुछ ऐसे ही पक्षियों के बारे में जानते हैं, जिनमें टैलेंट की कोई कमी नहीं हैं. साथ ही यह भी समझते हैं कि वह अपनी आवाजों या एक्शन से किस तरह के भाव अपने साथियों को बताते हैं?

दोस्तों, इंसानों के जरिए आवाज से अपने भाव को एक-दूसरे को बताया जाता है. आवाज और भाषा ही एक माध्यम है जिससे हम एक दूसरे की बात समझ और उस पर रिएक्ट कर पाते हैं. लेकिन अगर हमारे पास भाषा न होती तो हम अपने संदेश एक-दूसरे को कैसे देते. दोस्तों, आपको बता दें कि इंसान तब भी किसी न किसी रूप में अपने संदेश दूसरों तक पहुंचा ही देता. ठीक उसी तरह पक्षी भी अपना संदेश किसी न किसी माध्यम से अपने साथियों तक पहुंचा ही देते हैं. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि पक्षी अपने साथियों से कैसे बात करते होंगे? या फिर वह अपने दोस्तों को कैसे बताते होंगे कि वह मुसीबत में हैं या उन्हें सुरक्षित जगह मिल गई है. अगर नहीं जानते, तो कोई बात नहीं है. आज हम पक्षियों से जुड़ी कुछ खास बातें और उनके खास हुनर के बारे में जानेंगे.

हर जानवर और पक्षी का अपना अंदाज होता है, अपने साथियों से बात करने का उनको अपना मैसेज देना का. जैसे शेर की दहाड़, सियार का हुकहुकाना, बिल्ली की म्याऊं, कोयल की मीठी कूक, कौए की कांव कांव और चिड़ियों की चिप चिप, चूं चूं.., ऐसी कई आवाजें इन पक्षियों और जानवरों की भाषा हैं. ये इनका अंदाज है एक-दूसरे से बात करने का. जैसे हम हिन्दी में बात करते हैं क्योंकि यह हमारी भाषा है और इसी तरह दूसरी भाषाएं, जैसे अंग्रेजी, संस्कृत, फ्रेंच आदि पढ़ते हैं, ठीक उसी तरह पक्षियों की खास भाषा होती है, इसलिए ये कई तरह की आवाजें निकालकर एक-दूसरे से बात करते हैं, संदेश देते हैं और खतरे का आभास भी कराते हैं. दोस्तों, पक्षियों ने तेजी से अपने आप को बदला है, कुछ पक्षी तो इंसानों से बात करने और उनकी भाषा तक सीखने से पीछे नहीं है. अब तोते को ही देख लीजिए वह किसी टेप रिकॉर्डर से कम नहीं होता है. इंसानों की बोली को कॉपी करना और मिर्ची खाना तो मानिए उसका शौक है. ठीक इसी तरह इस धरती पर कई ऐसे पक्षी है जो इंसानों की तरह बोलते और गाते हैं. यहां तक कि कई तरह कि आवाजों के साथ गाना भी बजा लेते हैं. चलिए दोस्तों, कुछ ऐसे ही पक्षियों के बारे में आज हम आपको बताते हैं.

1.
दोस्तों, टैलेंटेड पक्षियों और चिड़ियाओं की सूची में पहला नाम लायर बर्ड का है. यह चिड़िया सिर्फ ऑस्ट्रेलिया में पाई जाती है. इस प्रजाति के नर और मादा वर्ग में  वीणा का अंतर होता है. दोस्तों, इस पक्षी को वीणा पक्षी भी कहा जाता है. ऐसा इसलिए है क्योंकि इसके नर पक्षी की पूंछ वीणा के आकार की होती है. इस पक्षी में आवाज निकालने में इंसानों जितना हुनर है. यह किसी तरह की भी आवाज निकालने में सक्षम है. यह जितना खूबसूरत है उतना ही शानदार भी है. इस पक्षी को दुनिया के सबसे सुंदर पक्षियों की सूची में रखा गया है. यह किसी भी चीज की नकल करने में माहिर है. यह दूसरे पक्षियों के गाने, कुत्तों के भौंकने और कारों के हॉर्न की आवाज के साथ चेनसॉ यानी पेड़ों के कटने की आवाज की भी नकल आसानी से कर लेता है. दोस्तों, इस पक्षी की सीटी की नकल किसी असली सीटी की आवाज से कम नहीं है.

इस पक्षी की प्रजाति में मादा पक्षी से नर पक्षी थोड़ा सा लंबा, बड़ा एवं आकर्षित होता है. नर पक्षी की पूंछ उसे बेहद खूबसूरत बनाती है. ठंड के मौसम में नर पक्षी गीत गाकर मादा को अपनी ओर आकर्षित करता है. यह एक शर्मीला पक्षी है और आसानी से प्रकृति में दिखाई नहीं देता है. इसकी आवाज से ही इसकी उपस्थिति को जाना जा सकता है. मादा पक्षी भी आवाज की नकल करने में कुशल है लेकिन यह बहुत कम बोलती है. इसलिए दुनिया भर में सिर्फ नर लायर बर्ड ही मशहूर है. दोस्तों, इस पक्षी की खास बात यह है कि 20 तरह की प्रजातियों की आवाज यह बेहद आसानी से निकाल लेता है. यह पक्षी कुछ ऐसी आवाजें भी निकालता है जिसे इंसानों को निकालने में परेशानी होती है. कैमरा की विभिन्न आवाजों के साथ यह कार के सिक्योरिटी अलार्म तक की आवाज निकाल सकता है. दोस्तों, इस पक्षी को देखकर और सुनकर ऐसा लगता है कि यह जिनकी नकल कर रहा है वह आपके आसपास ही मौजूद हैं.

2.
दोस्तों, हुनरमंद पक्षियों की सूची में अगला नाम 33 साल के अफ्रीकन ग्रे तोते का है. नोक्सविल्ले जू में मौजूद यह तोतो खुद को आइंस्टाइन बताता है. जी हां, यह तोतो खुद को आइंस्टाइन कहकर पुकारता है. इसानों के साथ करीब 3 दशकों से रहते-रहते इसने उनकी बोली और उनको समझना भी सीख लिया है. चलिए आपको इससे अभी तक की गई कई बातों में से कुछ बातें बताते हैं. अगर आप इससे पूंछते हैं कि तुम्हारा नाम क्या है… तो यह खुद को आइंस्टाइन बताता है. खुद के फेमस होने के सवाल पर इसका जवाब होता है… मैं एक स्टार हूं. दोस्तों, यह इंसानों की भाषा बोलने के साथ-साथ जानवरों की नकल भी बेहद खूबसूरती से करता है. चिड़ियों के चहचहाने से लेकर घोड़े के हीनहीनाने तक की आवाज यह तोता आसानी से निकालता है. इस तोते की खास बात यह है कि वह आपकी बातों का जवाब अपनी आवाज के एक्शन से करता है. अगर आप इससे स्पेशसिप और पानी के गिरने की आवाज निकालने को कहेंगे तो यह कुछ सेकेंड में वह करके आपको दिखा देता है. यहां तक कि अगर आप इससे किसी को बुलाने के लिए कहेंगे तो यह उसको कम हियर कहकर बुला भी सकता है. इसी के साथ यह कुछ अंग्रेजी गानों की धुनों को भी पहचानता है. अगर आप उस धुन को गुनगुनाएंगे तो वह आपके साथ उस गाने को गुनगुनाने लगेगा. इन सभी बातों से यह तो साफ है कि यह तोता कोई आम तोता नहीं है. इसने भाषाणों को समझने में काफी मेहनत लगाई है.

3.
दोस्तों, इसी के साथ यूनाइटेड स्टेट के एक बड़े शहर मिनीपोलिस में हुए अमेरिका गॉट टेलेंट शो में एक बार एक तोते ने जजों को उसकी काबिलियत से सोचने पर मजबूर कर दिया. एको नाम के तोते ने जजों को हॉय से लेकर गुडबॉय तक कह डाला. उसने अपनी बोलने की क्षमता से जजों को हंसने पर मजबूर कर दिया. शो में जब उसके ट्रेनर ने उससे इंग्लिश के अलावा स्पेनिस में बात करनी शुरू की तो तोते ने अपने ट्रेनर के स्पेनिस शब्दों को पकड़ा, साथ ही उनका जवाब भी दिया. शो में तोते ने महिला के साथ गाना भी गाया. ट्रेनर के कहने पर शीप के साथ साथ मुर्गी की आवाज भी उसने बेहद खूबसूरती से निकाली. दोस्तों, इसी के साथ तोते ने हंसने और रोने की आवाज निकालकर लोगों को खूब हंसाया. अंत में महिला ट्रेनर के कहने पर उसने उसे किस की आवाज भी निकाल कर दिखाई. दोस्तों, तोते ने अपने हुनर से अमेरिका गॉट टेलेंट में मौजूद जनता को खड़े होकर तालियां बजाने पर मजबूर कर दिया.

4.
दोस्तों, पक्षियों के साथ मुर्गियों में भी कमाल का टेलेंट होता है. आप कहेंगे मुर्गियों में कैसा टेलेंट भाई? तो हम आपको बता दें कि मुर्गी प्यानो भी बजा सकती है. जी हां, 2017 में हुए अमेरिका गॉट टेलेंट के ऑडीशन में मुर्गी ने प्यानो बजाकर लोगों को चौंका दिया था. दो महिलाओं के साथ आई मुर्गी ने पहले तो इधर-उधर भागने की कोशिश की लेकिन बाद में प्यानो पर उसने एक शानदार धुन बजाई. दोस्तों, मुर्गी के इस टेलेंट को देखकर लगता है कि उन दोनों महिलाओं ने मुर्गी के ऊपर खूब मेहनत की थी, जिससे मुर्गी प्यानो बजाने लायक बन पायी.

5.
दोस्तों, इस पक्षियों की इस सूची में अगला नाम राइफल बर्ड का है. ऑस्ट्रेलिया के क्विंसलैंड में पाए जाने वाली राइफल बर्ड पक्षियों की प्रजातियों में एकदम अनोखी है. नर राइफल बर्ड को जब मादा राइफल बर्ड को अपनी और आकर्षित और सम्मोहित करना होता है तो यह अपने गले में एक चमदार ब्लू कलर के रंग से उसे अपनी ओर आने का इशारा करता है. इसी के साथ अपने पंखों को फैलाकर अपनी गर्दन को इधर-उधर करके डांस करने लगता है. इस दौरान इसकी गर्दन पर मौजूद चमकदार ब्लू लाइट इसे बेहद खूबसूरत बना देती है. काले रंग के इस पक्षी के ऊपर ब्लू लाइट दूर से ही नजर आ जाती है.

6.
वसंत का मौसम आते ही आपने चिड़ियों के चहचहाने की आवाज तो सुनी ही होगी. वंसत के मौसम का मजा उन आवाजों के साथ ही तो है. नाइट एंगल नाम के चिड़िया भी इसी मौसम में अपना हुनर दिखाती है. इसकी आवाज बेहद मधुर और शांति देनी वाली होती है. यह चिड़िया अपनी कई तरह की आवाज निकालकर अपने साथियों को कई तरह के संदेश देती है. जिसकों इंसानों के जरिए सुनकर गाना गाने का अंदाजा लगाया जाता है. दोस्तों, एक शोध के मुताबिक चिड़ियों का दिमाग बेहद ही तेज होता है. यह रात में सोते हुए भी चहचहाती रहती है. ऐसा ये आमतौर पर छोटी चिड़िया को ट्रेन करने के लिए करती है. आपने यह कई बार देखा होगा और नोटिस भी किया होगा कि चिड़िया कई बार तेज चहचहाने लगती तो कई बार लगातार लंबी-लंबी आवाजें निकालने लगती है. दोस्तों, ऐसा करके वह अपनी सिक्योरिटी और दूसरी चिड़ियाओं को उनके आसपास किसी के होने के मैसेज देती है. ठीक इसी तरह नाइट एंगल भी चिड़ियाओं को मैसेज देती है, जिसे हम गाना समझते है. लेकिन यह तो सच है कि आवाज चाहे जिसके लिए भी हो, इस चिड़िया की मधुर आवाज सुनकर काफी आराम सा महसूस होता है साथ ही दिल को शांति भी मिलती है.

7.
दोस्तों, कौवे की बुद्धिमत्ता की कहानियां तो आपने खूब सुनी होंगी लेकिन आपको जानकर हैरानी हो सकती है कि कौवे आवाज और भाषा की नकल करने का भी हुनर रखते है. कौवे इंसानों की भाषा को बोल सकते हैं  साथ ही उनकी कही बात को तोते की तरह कॉपी भी कर सकते हैं. यह आपसे हाय, हैलो भी कर सकते हैं. इनको ट्रेन करके आप इनसे हाय कहने के लिए बोलेंगे तो यह हाय जवाब देंगे, साथ ही हैलो का जवाब भी हैलो मिल सकता है. इसी के साथ यह आपके खासने की आवाज को भी कॉपी कर सकते हैं. लेकिन इनकी सबसे बड़ी समस्या यह है कि यह मनमर्जी के मालिक हैं. कई बार यह आपके हाय हैलो में आपकी मदद करेंगे तो कई बार यह अपनी आवाज में आपसे हाय हैलो कर सकते हैं.

दोस्तों, इन सभी चिड़ियाओं, पक्षियों को देखकर ऐसा लगता है कि इस धरती पर सिर्फ इंसान ही नहीं है जिसने दूसरी भाषाएं बोलना सीखा है. कई जानवर और पक्षी भी ऐसे हैं जिन्होंने बदलते वक्त के साथ खुद में बदलाव किया है या फिर उन्हें भगवाने ने एक शानदार टैलेंट से नवाजा है. चिड़िया की जिस आवाज को हम उसका गुनगुनाना समझते हैं वह किसी न किसी तरह का मैसेज होता है. कई बार तो चिड़िया के बच्चे भी धीमी आवाज में चहचहाते हैं, साथ ही वह अपनी मम्मी को यह बताते हैं कि वह भूखे हैं. तो दोस्तों, अब अगर चिड़िया कहीं आपको चहचहाती दिखे तो समझ जाइएगा कि वह अपने साथियों को किसी तरह का मैसेज दे रही है. दोस्तों, कमेंट बॉक्स में कमेंट कर जरूर बताएं कि किस पक्षी का चहचहाना आपको अच्छा लगता है.

Related Articles

Leave a Comment