मोदी को लगा बड़ा झटका, चुनाव हारते ही कांग्रेस में शामिल हुए शिवराज सिंह चौहान?

राजनीति में कब क्या हो जाए कहा नहीं जा सकता है. आज की राजनीति पूरी तरह से असमंजस से भरपूर है. राजनीतिक फायदे के लिए राजनेता और राजनीतिक दल कई बार खुद के स्वार्थ के चक्कर में जनता के हित को नजरअंदाज कर देते हैं. कई बार ऐसे मामले देखने को भी सामने आ चुके हैं. वहीं राजनेताओं को कई बार खुद के स्वार्थ के लिए एक राजनीतिक दल बदलकर दूसरे में शामिल होते हुए भी देखा गया है. वहीं अब तीन राज्यों में बीजेपी के सत्ता गंवाने के बाद मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की एक ऐसी तस्वीर सामने आई है, जिसे देखकर खुद पीएम नरेंद्र मोदी भी हैरान रह सकते हैं.

तीन राज्यों में बीजेपी को हराने के बाद कांग्रेस के तीन मुख्यमंत्रियों ने हिंदी भाषी राज्यों राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में पद की शपथ ली. इन शपथग्रहण समारोहों में अधिकतर विपक्षी दल के नेता मौजूद थे जो कि भाजपा के खिलाफ एकता का प्रदर्शन भी साबित हुआ. हालांकि मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के हाथों शिकस्त के बाद तीनों राज्यों में मुख्यमंत्रियों के शपथग्रहण समारोह में कांग्रेस और बीजेपी के नेताओं में गर्मजोशी देखने को मिली. चुनाव से पहले तक तीनों राज्यों की कमान संभालने वाले बीजेपी के मुख्यमंत्री इस समारोह में अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों से दिल खोलकर मिले और कांग्रेस नेताओं ने भी बाहें फैलाकर उनका स्वागत किया. चुनाव प्रचार के दौरान एक दूसरे पर तीखे हमलों के बाद मध्य प्रदेश से सबसे ज्यादा हैरान करने वाली तस्वीर सामने आई.

72 वर्षीय कमलनाथ ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली. कमलनाथ ने हिन्दी में शपथ ली और अकेले शपथ ग्रहण किया. शपथ ग्रहण समारोह में राहुल गांधी, कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के मंच पर आते ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हर्षोउल्लस के साथ जमकर नारे लगाए. इस समारोह से पहले एक सर्वधर्म प्रार्थनासभा का भी आयोजन हुआ. शपथ ग्रहण समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी पहुंचे. शिवराज सिंह चौहान लगातार तीन बार मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं लेकिन अब करीब 13 सालों बाद प्रदेश में बीजेपी के चुनाव हारने के बाद उन्हें सीएम की कुर्सी छोड़नी पड़ी. लेकिन कमलनाथ के शपथग्रहण समारोह में शिवराज सिंह चौहान ने कुछ ऐसा कर डाला जिसे देखकर अमित शाह और नरेंद्र मोदी ने भी चुप्पी साध ली है.

6 महीने में दीपिका बनेगी रणवीर के बच्चे की मां? हर कोई जानकर हैरान है!

दरअसल, भोपाल में सीएम कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जिस अंदाज में शिवराज सिंह चौहान का स्वागत किया और चौहान ने जो गर्मजोशी दिखाई, वह देखने लायक रही. शपथ ग्रहण से पहले मंच पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एक साथ हाथ उठाकर जनता का अभिवादन किया. इस दौरान दो विरोधी पार्टी के नेताओं के चेहरे पर जो खुशी देखने को मिली वो काफी आर्श्चय पैदा करने वाली थी. कोई भी इस बात का अंदाजा नहीं लगा सकता है कि ये वही कट्टर विरोधी हैं जो चुनावी रैलियों में एक-दूसरे पर निशाना साधा करते थे. बीजेपी के शिवराज सिंह ने मिलकर कांग्रेस के नए मुख्यमंत्री के साथ हवा हाथ उठाकर लोगों का अभिवादन किया.

वहीं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के कुछ ही घंटे बाद कमलनाथ ने विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के जरिए किये गये वादे के अनुरूप किसानों के दो लाख रुपये तक के कर्ज माफ करने को मंजूरी प्रदान कर दी.

दोस्तों, कमेंट बॉक्स में कमेंट कर जरूर बताएं कि कांग्रेस और बीजेपी की ये गर्मजोशी देखकर आपको कैसा लगा?

(Visited 552 times, 1 visits today)

आपके लिए :