X

क्या वाकई एलियन मौजूद हैं और हमें मूर्ख बना रहे हैं? जानिए एलियन के पीछे का छुपा रहस्य

क्या वाकई एलियन मौजूद हैं और हमें मूर्ख बना रहे हैं? जानिए एलियन के पीछे का छुपा रहस्य
इस धरती पर रहने वाले लोगों की दिलचस्पी हमेशा ये जानने में रही है कि इस लोक के अलावा क्या कोई दूसरा लोक भी है जहां कोई जीव रहते हैं? विज्ञान को या वैज्ञानिकों को आज तक ऐसे कोई पक्के सुबूत नहीं मिले हैं जिन्हें देखकर ये दावा किया जा सके कि एलियनों का अस्तित्व वाकई में है. दूसरे ग्रहों पर जीवन की तलाश विज्ञान के लिए बेहद चुनौती भरा काम रहा है. शोधकर्ताओं को यकीन है कि वो धरती से परे जीवन की संभावनाओं का पता लगाने में कामयाब हो सकते हैं. एलियन से जुड़े तमाम रहस्य हैं बल्कि ये कहें तो गलत नहीं होगा कि एलियन खुद रहस्य में है. एलियन होते हैं, यूएफओ होते हैं, उनका क्या सच है, आज तक पता नहीं लग पाया लेकिन उनके अस्तित्व को नकारा भी नहीं जा सकता. लेकिन आइए जानते हैं की दुनिया में एलियन से जुड़ी कौनसी बातें उनके अस्तित्व के होने का दावा करती हैं... वैज्ञानिकों के मुताबिक एलियन निश्चित ही सभ्यता, बुद्धि और तकनीक में हमसे कहीं बढ़कर होंगे क्योंकि उनके पास अंतरिक्ष की विशाल दूरियों को पार करने के साधन हैं. वे उनके जैसी ही विकसित प्रजातियों की खोज में होंगे और हमें बहुत पिछड़ा देखकर उन्हें अफसोस होगा. शायद उनकी नजर में हमारा कोई महत्व न हो. इसके अलावा यह भी हो सकता है कि वे हमसे संपर्क साधने के बहुत पहले से ही हमारा अवलोकन कर रहे हों. वे शायद हमें उसी तरह ट्रीट करेंगे जिस तरह इंसान खुद से निचले दर्जे की प्रजातियों को ट्रीट करता है. वैज्ञानिकों का अनुमान है कि अंतरिक्ष में रहने के लिए सही ग्रह, पानी और दूसरे संसाधनों की आवश्यकता भी एलियंस के आने का महत्वपूर्ण कारण माना जा सकता है. हो सकता है कि वे बलपूर्वक हमसे सब कुछ छीन लें. हो सकता है कि वे भावशून्य हों और हमारी बातों को न समझ सके. साथ ही यह भी हो सकता है कि एलियन हमें एक मूर्ख प्रजाति के रूप में देखती हो. दुनिया में मौजूद हैं कई बेखौफ जानवर, अच्छे से अच्छों के भी छक्के छुड़ा सकते हैं ये वहीं इजिप्ट एलियन के अस्तित्व को स्वीकार करता है. इजिप्ट की एक कथा के मुताबिक एलियन उस समय से हैं जब धरती और ब्रह्मांड का निर्माण हुआ था. ऐसा माना जाता है कि एलियन की दो प्रजातियां होती हैं. इनमें एक Embryo और दूसरी Reptilian है. इसके अलावा दुनिया में कई कथाओं में एलियन को दानव माना जाता है. एलियन को दानव का दूत कहा जाता है और वो लोगों को बंदी बनाकर ले जाते हैं. हालांकि एलियंस की विज्ञान में सीधी सी परिभाषा हैं और विज्ञान उसी माप-दंड के हिसाब से एलियंस थ्योरी को चलता हैं. वैज्ञानिक विभिन्न अनसुलझी गुत्थियों को सुलझाने कि कोशिश में हैं, चाहे वो अन्तरिक्ष में मिला कोई UFO हो या फिर किसी अनजान ग्रह से आए कोई रेडियों सिग्नल. मुख्य विचार धारा के वैज्ञानिक तो मानते हैं कि ब्रह्माण्ड में लाखों कि संख्या में ऐसे ग्रह हैं जिन पर जीवन संभव हैं और पनप भी रहा हैं. उनका मानना हैं कि एलियंस की टेक्नोलॉजी हमसे बहुत आगे हैं और वे लोग हमसे नजर बचाकर हम पर नजर बनाए हुए हैं. लेकिन कुछ लोग इसे मानने से इनकार कर देते हैं. वो कहते हैं कि ब्रह्माण्ड में जीवन संभव जरूर हैं पर ये बात सही होना जरूरी नहीं हैं कि वो हम पर नजर रखे हुए हैं या फिर हमें जानते हैं. वहीं सदी के महान वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग ने तो हमें एलियंस को खोजने और उनसे सम्पर्क बनाने कि कोशिश न करने कि नसीहत भी दी थी. दोस्तों, कमेंट बॉक्स में कमेंट कर बताएं कि बॉलीवुड फिल्म क्रिश में किस अभिनेता ने मुख्य किरदार निभाया था.