X

बेटी की शादी में मुकेश अंबानी ने गरीबों के साथ कर डाला ऐसा काम, हर कोई देखकर भौचक्का रह गया

बेटी की शादी में मुकेश अंबानी ने गरीबों के साथ कर डाला ऐसा काम, हर कोई देखकर भौचक्का रह गया
भारत के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी की इकलौती बेटी की शादी हो चुकी है. भारत के सबसे अमीर शख्स होने के कारण उनकी बेटी की शादी काफी खास रही है. मुकेश अंबानी ने अपनी बेटी की शादी में करोड़ों रुपए खर्च किए. मुकेश अंबानी की शादी में देश ही नहीं बल्कि विदेशों से भी लोगों के आने का तांता लगा रहा. यहां तक की मुकेश अंबानी की बेटी की शादी में अमेरीका की साल 2016 में राष्ट्रपति उम्मीदवार रही हिलेरी क्लिंटन ने भी शिरकत की. इसके अलावा क्रिकेट जगत के साथ ही बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक के सुपर स्टार्स इस शादी में पहुंचे. वहीं इस शादी में मुकेश अंबानी ने कुछ ऐसे काम भी कर डाले जिसे जिसे जानकर हर कोई हैरान रह जाएगा. देश के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी की बेटी ईशा की शादी की उदयपुर में धूम रही. अपनी अमीरी के कारण भी मुकेश अंबानी गरीबों को नहीं भूले और उन्होंने गरीबों के लिए ऐसा कुछ किया जिसे जानकर हर कोई हैरानी में है. अंबानी परिवार ने शादी के ताम झाम और भव्यता के बीचे नेक काम भी किया. प्री वेडिंग फंक्शन में गरीबों के लिए की गई उनकी पहल सब लोगों के जुबान पर है. दरअसल, ईशा की शादी से पहले उदयपुर शहर के लिए सम्मान प्रकट करने और बेटी की शादी में उनसे आशीर्वाद के लिए अंबानी परिवार ने शहर में अन्न सेवा कर 5100 लोगों को खाना खिलाने की शुरुआत की. इन 5100 लोगों में ज्यादातर दिव्यांग थे. अन्न सेवा के जरिए इन लोगों को 7 दिसंबर से 10 दिसंबर तक हर रोज तीन बार भोजन कराया गया. चार दिनों तक ये सेवा उदयपुर के नारायण सेवा संस्थान में चली. ऐसे में बेटी की शादी के लिए उन्होंने गरीबों से आर्शीवाद भी हासिल किया. संसद भवन में आतंकी हमला, आतंकवादियों ने सुरक्षाकर्मियों को दिया गच्चा, देश में दहशत का माहौल अन्न सेवा के साथ ही यहां ‘स्वदेश बाजार’ भी लगाया गया. जिसमें देश के कई हिस्सों से 108 भारतीय पारंपरिक क्राफ्ट और कला की प्रदर्शनी लगी. इस प्रदर्शनी में 30 से भी ज्यादा तरह के कपड़े और बुनाई की कलाकारी देखने को मिली. स्वदेश बाजार रिलायंस फाउंडेशन की एक पहल है. जिसमें 108 पारंपरिक कलाओं का प्रदर्शन किया गया. स्वदेश बाजार में भारतीय परम्पराओं, स्थानीय शिल्प और कला का प्रदर्शन किया गया. जिसमें 108 तरह की भारतीय शिल्प और कला को लोगों के आगे पेश किया गया. स्वदेश बाजार पारंपरिक भारतीय कारीगरों की शिल्प कौशल को प्रोत्साहित करने के लिए रिलायंस फाउंडेशन के जरिए शुरू की गई एक अनोखी पहले है. यह खासतौर पर उन स्वदेशी शिल्पों के लिए है, जिन्हें संरक्षण और पुनरुद्धार की आवश्यकता है. रिलायंस फाउंडेशन सालों से इन कला और शिल्प का समर्थन कर रहा है और भविष्य में स्वदेश बाजार के लक्ष्यों को अपने समर्थन को व्यापक और गहरा बनाने का लक्ष्य रखता है. स्वदेश बाजार में कारीगर परिवारों, मास्टर कारीगरों और शिल्पकारों ने पश्चिम बंगाल से जामदानी, गुजरात से पटोला, कश्मीर से पश्मिना कनी, मध्य प्रदेश से कोटा बुनाई, चंदेरी बुनाई और महेश्वरी जैसे बुनाई की अपनी स्वदेशी तकनीक और उत्पादों का प्रदर्शन किया. हालांकि इन सब के बीच ईशा अंबानी की शादी आनंद पीरामल के साथ हो गई. आनंद पीरामल पीरामल ग्रुप के एक्जिक्यूटिव डायरेक्टर हैं. ईशा अंबानी और आनंद पीरामल की ये शादी लव मैरीज है. दोस्तों, कमेंट बॉक्स में कमेंट कर जरूर बताएं कि रिलायंस जियो किसी कारोबारी की कंपनी है.