आखिर आनंद पीरामल में ऐसा क्या था जो मुकेश अंबानी ने उन्हें अपनी बेटी ईशा का जीवनसाथी बना दिया…

भारत के ही नहीं बल्कि एशिया के अमीर व्यक्तियों में शुमार मुकेश अंबानी ने आनंद पीरामल को अपने दामाद के रूप में चुना है. मुकेश अंबानी अपनी इकलौती बेटी ईशा अंबानी का हाथ आनंद पीरामल को सौंप चुके हैं. ईशा और आनंद लंबे समय से दोस्त हैं. आनंद पीरामल, पीरामल ग्रुप के संस्थापक सेठ पीरामल के प्रपौत्र हैं और अजय पीरामल के बेटे हैं. आनंद पीरामल मूल रूप से राजस्थान के झुंझुनू के बगड़ कस्बे के रहने वाले हैं. लेकिन बहुत से लोग हैं जो आनंद पीरामल को बखूबी नहीं जानते हैं. तो आइए आज यहां जान लेते हैं कि आखिर भारत के सबसे अमीर इंसान मुकेश अंबानी की पसंद अपनी बेटी ईशा के लिए कैसी है..

आनंद पीरामल एक बहुत अमीर और ताकतवर खानदान से ताल्लुक रखते हैं. आनंद पीरामल अपने पिता अजय पीरामल की कंपनी में एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर के पद पर हैं. पीरामल एंटरप्राइज की वैल्यू करीब 4 बिलियन डॉलर है. आनंद यूनिवर्सिटी ऑफ पेन्सिलवेनिया से इकोनॉमिक्‍स में स्नातक हैं. इसके बाद आनंद ने हार्वर्ड बिजनेस स्‍कूल से बिजनेस एडमिनिस्‍ट्रेशन में MBA किया है. बिजनेस स्कूल से पास होने के बाद उन्होंने दो स्टार्ट अप्स शुरू किए थे. पहला हेल्थकेयर स्टार्ट अप था, जिसका नाम पीरामल ई स्वास्थ्य था. उनका दूसरा स्टार्ट अप रिएल इस्टेट का था, जिसका नाम पीरामल रिएलटी था. पीरामल ई-हेल्थ है आज करीब 40000 से ज्यादा रोगियों का इलाज कर रही है. अब दोनों पीरामल एंटरप्राइज का हिस्सा हैं. पीरामल इंटरप्राइजेज वेबसाइट के मुताबिक आनंद ग्रुप के रियल एस्टेट बिजनेस को देखते हैं.

बढ़ गई है चर्बी और करना है इसे कम, तो आज से ही अपना लीजिए ये आदतें

वहीं मुकेश अंबानी और आनंद के पिता अजय पीरामल दोनों समधियों के बीच दोस्ती की चर्चा बिजनेस जगत में होती रही है. पीरामल बिजनेस एम्पायर की शुरुआत 1920 में हुई थी. जब पहले वर्ल्ड वॉर के बाद अजय पीरामल के दादा सेठ पीरामल चतुर्भुज मखारिया 50 रुपए लेकर राजस्थान के बगड़ कस्बे से बॉम्बे पहुंचे थे.

90 के दशक में मुकेश-नीता अंबानी और अजय-स्वाति पीरामल साथ में अंटार्कटिका के ट्रिप पर गए थे. आनंद-ईशा दोनों परिवारों के बीच दोस्ती का रिश्ता होने की वजह से सालों से एक-दूसरे को जानते हैं. दोनों परिवारों का एक-दूसरे के घर आना जाना है और यही वजह है कि आनंद और ईशा की दोस्ती प्यार में बदल गई. आनंद ने ईशा अंबानी को प्रपोज किया था. जिसके बाद ईशा ने भी उनका प्रपोजल स्वीकार कर लिया. खबरें हैं कि आनंद ने ईशा को महाबलेश्वर मंदिर में प्रपोज किया था. दोनों ने ही इसकी जानकारी अपने माता-पिता को दी और अब दोनों की दोस्ती परिवारवालों की मर्जी से शादी तक पहुंची.

आनंद पीरामल के पिता अजय पीरामल ‘पीरामल ग्रुप’ और श्रीराम ग्रुप के चेयरमैन है. अजय पीरामल को अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और नरेंद्र मोदी के साथ स्टेज शेयर करते हुए देखा जा चुका है. अजय पीरामल की कंपनी ‘पीरामल ग्रुप’ फार्मा, हेल्थकेयर और फाइनेंस सर्विस के क्षेत्र में काम करती है. फोर्ब्स के मुताबिक अजय पीरामल की संपत्ति 4.5 बिलियन डॉलर है और वे भारत के अमीर लोगों की सुची में वो टॉप 30 में गिने जाते हैं. वहीं पिता के बाद सारे कामकाज की जिम्मेदारी आनंद की ही है.

दोस्तों, कमेंट बॉक्स में कमेंट कर बताएं कि रिलायंस जियो किसकी कंपनी है.

(Visited 471 times, 1 visits today)

सुझाव कॉमेंट करें

About The Author

आपके लिए :