क्या चल रहा है ?
कैसे बनाई जाती है पेंसिल? | फैक्ट्री में कैसे बनता है टोमैटो केचअप? | आलू चिप्स बनाना है आसान, ये रही पूरी प्रोसेस | नमक कैसे बनता है? समुद्र से लेकर आपके घर तक कैसे पहुंचता है? | अगर ये डॉक्युमेंट नहीं है तो NRC में आपकी नागरिकता जा सकती है | कैसी होती है डिटेंशन कैंप में जिन्दगी? | घुसपैठियों से ये भयानक काम करवाएगी मोदी सरकार? | क्या शरणार्थियों को रोजगार और घर दे पाएगी सरकार? | शरणार्थी और घुसपैठिया में क्या है अंतर? | नागरिकता कानून पर भारत उबल रहा है, कौन है इसके लिए जिम्मेदार? | जामिया में पुलिस ने क्यों की लाठीचार्ज? किस तरफ जा रहा है देश? | मोदी-शाह की जोड़ी फेल, राज्यों में लगातार मिल रही है हार | पाकिस्तान और बांग्लादेश में हिंदुओं की स्थिति कैसी है? | नागरिकता संशोधन कानून पर अमेरिका-पाकिस्तान ने भारत को चेताया | इसरो की कमाई कैसे होती है? कहां से आता है करोड़ों रुपया ? | विदेशों में भी मोदी मैजिक, मोदी के नाम से चुनाव जीत रहे हैं विदेशी नेता! | अमित शाह के लाए नागरिकता कानून से मुसलमानों में खौफ! देश छोड़ने की लटकी तलवार! | गूगल पर ये बात बिल्कुल भी न करें सर्च, हो सकती है जेल! | ट्रंप भी खड़े होकर ताली बजाने लगे - आखिर मोदी ने ऐसा क्या बोला - Howdy Modi | टूरिज्म के लिहाज से बिहार का गया क्यों बन चुका है इतना खास? |

Mission Chandrayan 2... वक्त आ गया है लेंडर विक्रम को अलविदा कहने का

"mission chandrayaan 2" के Vikram lander ( विक्रम प्रज्ञान ) के बारे में हम आज कुछ खास बात

करने वाले हैं जैसे हमें बताया गया था कि हमारे lander और Rover दोनों के मिशन की  validity पृथ्वी के 14 दिन मतलब एक loner दिन की थी अगर विक्रम लेंडर की soft landing हुई होती, सब कुछ सही तरह से हुआ होता तब की बात थी लेकिन क्या आपको पता है 2013 में China में यह मिशन हुआ था उन्होंने जो loner और Lander इस्तेमाल किए थे वह आज 6 साल हो गए फिर भी वह सही तरह से काम कर रहे हैं तो आज हम यह जानेंगे कि उनके Rover में ऐसा क्या था जो हमारे Rover और Lander में नहीं था उसके लिए आप हमारे वीडियो को जरूर देखें