क्या चल रहा है ?
घर पर क्रिस्पी फ्रेंच फ्राइज बनाने की सीक्रेट रेसिपी | अमित शाह को कौनसी खूबियां बाकी गृहमंत्रियों से अलग बनाती है? | भारतीय सेना के जवान भी इन कुत्तों को सलाम करते हैं...जानिए क्यों | कैसे बनता है खून? शरीर में कमी होने से कैसे बढ़ाएं खून की मात्रा? | बाप रे!! मोदी-शाह भारत को हिंदू राष्ट्र बनाएंगे? | ओवैसी के बारे में क्या सोचते हैं हैदराबादी मुसलमान? | कैसे बनाई जाती है पेंसिल? | फैक्ट्री में कैसे बनता है टोमैटो केचअप? | आलू चिप्स बनाना है आसान, ये रही पूरी प्रोसेस | नमक कैसे बनता है? समुद्र से लेकर आपके घर तक कैसे पहुंचता है? | अगर ये डॉक्युमेंट नहीं है तो NRC में आपकी नागरिकता जा सकती है | कैसी होती है डिटेंशन कैंप में जिन्दगी? | घुसपैठियों से ये भयानक काम करवाएगी मोदी सरकार? | क्या शरणार्थियों को रोजगार और घर दे पाएगी सरकार? | शरणार्थी और घुसपैठिया में क्या है अंतर? | नागरिकता कानून पर भारत उबल रहा है, कौन है इसके लिए जिम्मेदार? | जामिया में पुलिस ने क्यों की लाठीचार्ज? किस तरफ जा रहा है देश? | मोदी-शाह की जोड़ी फेल, राज्यों में लगातार मिल रही है हार | पाकिस्तान और बांग्लादेश में हिंदुओं की स्थिति कैसी है? | नागरिकता संशोधन कानून पर अमेरिका-पाकिस्तान ने भारत को चेताया |

नकली अंडा कैसे बनता है?

चीन में बड़े पैमाने पर नकली अंडा बनाने का काम चल रहा है। जोकि अब बाकी देशों तक भी पहुँच रहा है। इन्हें लोग 'चाइनीज अंडों’ के नाम से जानते है। भारत में भी factory में तैयार होने वाले अंडों की चर्चा होने लगी है। तो आज हम आपको बताने जा रहे है कि आखिर यह नकली अंडा कैसा बनता है।

‘Sunday हो या Monday रोज खाओ अंडे’ का प्रचार तो हम सब ने खूब देखा है। लेकिन आजकल मार्केट में नकली अंडों का आना भी शुरू हो चुका है। ऐसे में भला आपको कैसे पता चलेगा कि आप असली अंडा खा रहे है या फिर नकली और यह अंडा आखिर सेहत के लिए कितना फायदेमंद है।

चीन में बड़े पैमाने पर नकली अंडा बनाने का काम चल रहा है। जोकि अब बाकी देशों तक भी पहुँच रहा है। इन्हें लोग 'चाइनीज अंडों’ के नाम से जानते है। भारत में भी factory में तैयार होने वाले अंडों की चर्चा होने लगी है। तो आज हम आपको बताने जा रहे है कि आखिर यह नकली अंडा कैसा बनता है। बाज़ार में आप जब जाएंगे तो असली अंडों के साथ केमिकल की मदद से तैयार प्लास्टिक अंडा भी बिक रहा है। तो आपको बेहद सावधान होने की ज़रूरत है क्योंकि यह दोनों देखने में लगभग एक जैसे ही होते है।

कैसे बनता है नकली अंडा? जवाब है कि- नकली अंडा बनाने के लिए गुनगुने पानी में सोडियम एल्गिनाइट मिलाया जाता है। इसके बाद उसमें जिलेटिन, बेंजोइक, एल्यूम व अन्य रसायन मिलाए जाते है, ताकि अंडे का सफेद हिस्सा बनाया जा सके। जो ‘योक’/yolk होता है, यानि अंडे के अंदर का पीला हिस्सा, उसे बनाने के लिए खाने लायक पीला रंग इस्तेमाल किया जाता है।

इसके बाद तैयार सफेद और पीले हिस्से को कैल्सियम क्लोराइड के साथ मिला दिया जाता है, ताकि अंडे को आकार दिया जा सके। अब बात आती है अंडे के बाहरी खोल या कहे सफ़ेद कवर की, जिसके लिए तैलीय मोम, जिप्सम पाउडर और कैल्सियम कार्बोनेट और दूसरे तत्वों को मिलाकर तैयार कर दिया जाता है।

तो इस तरह नकली अंडा बनता है, लेकिन यह असली अंडो के जैसा ही दिखता है। तो आखिर इनकी पहचान कैसे की जाए? अब जब आप अगली बार मार्केट जाए तो नीच बताए points के base पर इनकी पहचान कर सकते है। नकली अंडो को पहचान ने का तरीका:

  • आप देखेंगे कि नकली अंडे की बाहरी परत असली अंडो के मुक़ाबले थोड़ी ज्यादा shiny होती है और थोड़ी खुरदुरी भी होती है। 
  • अगर आपके हाथ नकली अंडा आ गया तो आप notice करेंगे कि उसका छिलका थोड़ा सख्त होगा और उसके अंदर की तरफ रबरनुमा कोटिंग होगी।
  • असली अंडों के मुक़ाबले यह चाइनिज नकली अंडे size में थोड़े छोटे होते हैं।
  • नकली अंडे उलने के बाद पानी में ऊपर तैरते है।
  • नकली अंडा जल्दी खराब नहीं होगा और न ही इसमें से असली अंडे जैसी गंध आती है।
  • नकली अंडे को हिलाकर उसकी पहचान हो जाती है क्योंकि हिलाने पर इसके अंदर आवाज़ होती है, जबकि असली अंडे के साथ ऐसा नहीं होता है।
  • नकली अंडे को अगर आप फोड़ते है तो उसके अंदर का योल्क सफ़ेद हिस्से में मिलने लगता है। जिससे इसके नकली होने का पता चलता है। साथ ही नकली अंडे का योल्क असली अंडे के मुक़ाबले ज्यादा ही पीले रंग का होता है।
  • अगर आप नकली अंडे की पहचान करनी हो तो उसके छिलके को जलाकर देख ले। अगर उसमें से प्लास्टिक जैसी बदबू आए तो समझ जाये वो नकली है।
  • अगर आप नकली अंडे को उबालते है तो देखेंगे कि इसके अंदर का हिस्सा सख्त हो जाएगा। जबकि असली अंडे के अंदर का हिस्सा उबलने के बाद नर्म रहता है।

तो दोस्तों, नकली अंडों के बारे में यह थी पूरी कहानी। उम्मीद है अब आप नकली अंडों को खाने से बचेंगे और अपनी सेहत से बिलकुल भी compromise नहीं करेंगे।   

 

*********