Home Facts एक गलती करती है रात की नींद को खराब

एक गलती करती है रात की नींद को खराब

by Gwriter

अच्छी नींद किसे पसंद नहीं है. सब चाहते हैं कि रात में हमें अच्छी नींद आए. लेकिन कॉफी से लेकर शराब तक कई सारी चीजें ऐसी हैं जो रात में हमारी नींद को खराब कर देती है. आमतौर पर ज्यादा कॉफी पीने वाले, सिगरेट पीने वाले या शराब पीने वालों को रात में कमजोर नींद आती है. कॉफी और सिगरेट में मौजूद कैफीन और निकोटीन हमें सोने नहीं देता है. नींद के बीच में ही हमें उसकी जरूरत महसूस होने लगती है. कोल्ड ड्रींक, कॉफी और चॉकलेट जैसी हाई कैफीन वाली चीजें हमें रात में तो बिल्कुल नहीं खानी चाहिए. ऐसा करने से हमारा दिमाग हमें सोने नहीं देता है. वहीं दिन में 1-2 कप कॉफी हमारे शरीर को नुकसान नहीं पहुंचाती है.

दोस्तों, रात में सोने से पहले कई लोग फोन, टीवी या कोई अन्य गैजेट चलाना पसंद करते हैं. लेकिन इन सभी डिवाइसेज का सीधा असर हमारी नींद पर पड़ता है. दसअसल, इन सभी गैजेट्स में मौजूद ब्लू लाइन हमारे दिमाग को दिन और रात में अंतर करने में कंफ्यूज करती हैं. जिसका सीधा असर हमारी बॉडी में मौजूद सोने के लिए जिम्मेदार हार्मोन मेलाटोनीन पर पड़ता है. ब्लू लाइट से मेलाटोनीन कमजोर पड़ जाता है. इससे बचने के लिए हमें सोने से लगभग 1 घंटे पहले इन सभी गैजेट्स को बंद कर देना चाहिए. साथ ही इनका इस्तेमाल करते हुए ब्लू लाइट से बचाने वाले चश्मों को भी पहनना चाहिए.

रात में ज्यादा पानी पीना या किसी भी तरह की तेज लाइट के घर में खुले होने से भी हमारी नींद पर असर पड़ता है. रात में ज्यादा पानी पीने से हमें बीच नींद में बाथरूम के लिए उठना पड़ता है. वहीं तेज लाइट होने से ब्लू लाइट जैसा ही असर हमारी नींद पर पड़ता है. इन दोनों ही चीजों से बचने के लिए हमें सोने से 2 घंटे पहले पानी पीना चाहिए. साथ ही 2 घंटे पहले ही घर में जलने वाली तेज लाइटों को बंद कर देना चाहिए. इसी के साथ हम घर में लाल लाइटों को लगाकर सो सकते हैं. वो हमें अच्छी नींद लेने में मदद करती हैं.

दोस्तों, कई बार रात में जब हमें बेड पर लेटने के बावजूद नींद नहीं आती है, जिसको लेकर हम चिंतित और परेशान होने लगते हैं. ऐसे में हमें अच्छी नींद के लिए बेड से उठकर किसी बोरिंग किताब को पढ़ना चाहिए या पजल खेलना चाहिए. इसके अलावा मेडिटेशन भी करना चाहिए. इससे कुछ समय बाद हमारी पलकें भारी होने लगेंगी और हम आसानी से सो सकते हैं. हममें से ज्यादातर लोग सुबह उठने के लिए अलार्म लगाकर सोते हैं. अलार्म लगाकर नहीं सोना चाहिए. नींद खत्म होने के आखरी पलों में अगर अलार्म बजता है तो हम दिन भर थके हुए महसूस करते है. वहीं अगर हम दिन में झपकी या कुछ देर सो लेते हैं तो हमारी रात की नींद पर भी असर पड़ता है. इसलिए हमें दिन में सोने से बचना चाहिए.

कुछ लोग रात में सोने के लिए शराब और स्लिपिंग पिल का इस्तेमाल करते हैं. रात में इन दोनों ही चीजों से बचना चाहिए. शराब से दो नुकसान होते हैं. पहला तो ये कि अच्छी नींद नहीं लग पाती है. हम कच्ची नींद में सोते हैं वहीं दूसरा ये कि रात में शराब पीने के बाद हमें बीच रात में ही बाथरूम के लिए भी नींद से उठकर जाना पड़ता है. स्लिपिंग पील हमें बेहाेश जैसा कर देती है. उससे हमें नींद तो आती है लेकिन हमारी नींद की क्वालिटी पर इसका निगेटिव असर पड़ता है. सो कर उठने के बाद कई बार हमें सिरदर्द जैसी शिकायतें भी रहती हैं.

Related Articles

Leave a Comment