मच्छरों से रहिए सावधान! यहां जानिए डेंगू और मलेरिया से बचने के तरीके

मच्छरों से रहिए सावधान! यहां जानिए डेंगू और मलेरिया से बचने के तरीके
डेंगू और मलेरिया दोनो ही काफी खतरनाक बीमारियां हैं जो इन दिनों काफी तेजी से फैल रही हैं. डेंगू का वायरस मच्‍छरों के काटने से फैलता है. वहीं मलेरिया मादा एनोफिलीज मच्छर से फैलता है. समय पर इन बीमारियों का इलाज न कराया जाए तो ये जानलेवा भी साबित हो सकती हैं. मलेरिया बुखार, कंपकपी के साथ होता है. मलेरिया रोग के लक्षण संक्रमित मच्छर के काटने के 10 से 12 दिनों के बाद प्रकट होते हैं. हर साल मलेरिया से होने वाली मृत्युदर सैंकड़ों तक पहुंच जाती है. इससे बचने के कई सामान्य उपाय हैं लेकिन बेहद कारगर हैं. तो देर किस बात की अब हम आपको बताने जा रहे हैं कि कैसे कुछ सावधानियां बरतकर आप इन दोनों ही बीमारियों से खुद को दूर रख सकते हैं. क्रीम इन बीमारियों से दूर रखने का सबसे महत्वपूर्ण तरीका है मच्छरों को खुद से दूर रखना. इसके लिए नहाने के तुरन्त बाद अपने पूरे शरीर पर कोई भी ऐसी क्रीम लगाएं जिसकी सुगंध से मच्छर दूर भागते हों. बाजार और मेडिकल स्टोर पर ऐसे कई तरह की क्रीम आसानी से उचित दामों पर मिल जाएगी. जब तक आप मच्छरों को खुद से दूर रखेंगे तब तक डेंगू और मलेरिया आपसे दूर रहेगा. चेहरे के साथ बिल्कुल भी न करें ये काम वरना भुगतना पड़ सकता है अंजाम… तुलसी मच्‍छरों को प्राकृतिक तरीके से घर से दूर रखने के लिए खिड़की और दरवाजे के आस-पास तुलसी का पौधा जरूर रखें. तुलसी के पौधे से मच्छर दूर भागते हैं और अगर आप इसे रखेंगे तो मच्छर आपके घर में एंट्री भी नहीं करेंगे. डेंगू और मलेरिया के साथ-साथ तुलसी और भी कई बीमारियों से आपके शरीर को दूर रखती हैं. ये एक ऐसा पौधा है जो अमूमन सभी के घरों में पाया जाता है. ऐसे में अगर अभी तक आप इसे अपने घर नहीं लाएं हैं तो जल्द से जल्द ले आएं. पानी अपने घर के आसपास पानी जमा ना होने दें और बुखार होने पर लापरवाही ना करें. थोड़े से पानी को भी एक जगह जमा न होने दें. रुके हुए पानी में तुरन्त मच्छर पैदा होते हैं. इसलिए घर के अंदर और आस-पास रूके हुए पानी को साफ करना बहुत जरूरी होता है. इसके अलावा कूलर, गमले जैसी जगहों में पानी जमा न रहने दें. कूड़ादान डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियां फैलाने वाले मच्छरों का जन्म कूड़े कचरे में ही सबसे ज्यादा होता है. ऐसे में रोज अपने घर के कूड़ेदान को कूड़ा फेंकनें के बाद साफ करें. हो सके तो घर में गीला और सूखा कूड़ा अलग रखें और ज्यादा से ज्यादा सफाई करें. घर में कूड़े को एक से ज्यादा दिन तक रखा न रहने दे. हर दिन कूड़ा घर से बाहन निकाल दें, खासकर गीला कूड़ा बाहर निकालें. इन बीमारियों को सबसे ज्यादा सफाई से ही दूर रखा जा सकता है. मच्छरदानी मच्छरों को दूर करने के लिए मच्छरदानी का इस्तेमाल करें. खासकर अगर आपके घर में बच्चे हैं तो उन्‍हें रात के समय बिना मच्‍छरदानी के न सोने दें. ये आपको बाजार में आसनी से कम कीमत में मिल जाएगी. इसके साथ ही बच्चों को ऐसे कपड़े पहनाएं जिसमें उनका पूरा शरीर ढका रहे. शरीर के हाथ और पांव खासकर ढके रहने चाहिए. दोस्तों, कमेंट बॉक्स में कमेंट कर जरूर बताएं कि मच्छर क्या चीज चूसते हैं...?