क्या चल रहा है ?
भारतीय सेना के जवान भी इन कुत्तों को सलाम करते हैं...जानिए क्यों | कैसे बनता है खून? शरीर में कमी होने से कैसे बढ़ाएं खून की मात्रा? | बाप रे!! मोदी-शाह भारत को हिंदू राष्ट्र बनाएंगे? | ओवैसी के बारे में क्या सोचते हैं हैदराबादी मुसलमान? | कैसे बनाई जाती है पेंसिल? | फैक्ट्री में कैसे बनता है टोमैटो केचअप? | आलू चिप्स बनाना है आसान, ये रही पूरी प्रोसेस | नमक कैसे बनता है? समुद्र से लेकर आपके घर तक कैसे पहुंचता है? | अगर ये डॉक्युमेंट नहीं है तो NRC में आपकी नागरिकता जा सकती है | कैसी होती है डिटेंशन कैंप में जिन्दगी? | घुसपैठियों से ये भयानक काम करवाएगी मोदी सरकार? | क्या शरणार्थियों को रोजगार और घर दे पाएगी सरकार? | शरणार्थी और घुसपैठिया में क्या है अंतर? | नागरिकता कानून पर भारत उबल रहा है, कौन है इसके लिए जिम्मेदार? | जामिया में पुलिस ने क्यों की लाठीचार्ज? किस तरफ जा रहा है देश? | मोदी-शाह की जोड़ी फेल, राज्यों में लगातार मिल रही है हार | पाकिस्तान और बांग्लादेश में हिंदुओं की स्थिति कैसी है? | नागरिकता संशोधन कानून पर अमेरिका-पाकिस्तान ने भारत को चेताया | इसरो की कमाई कैसे होती है? कहां से आता है करोड़ों रुपया ? | विदेशों में भी मोदी मैजिक, मोदी के नाम से चुनाव जीत रहे हैं विदेशी नेता! |

बाजार में पनीर कैसे बनता है?

बाजार में कई सारी चीजें बनी बनाई मिल जाती है. इन्हीं चीजों में से एक है पनीर. वेजिटेरियन लोगों के लिए पनीर एक अहम डिश के रूप में इस्तेमाल की जाती है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि बाजार में पनीर बनता कैसे है? आइए जान लेते है...

घर में बना हुआ पनीर कई बार सही से नहीं बन पाता है. कई बार घर में बना पनीर छिटक जाता है. हालांकि बाजार में जब भी पनीर खरीदने जाते हैं तो पनीर हमेशा सॉफ्ट मिलता है. बाजार में मिलने वाले पनीर के छोट-छोटे पीस भी आसानी से कर सकते हैं. लेकिन कई लोग ये जानना चाहते हैं कि बाजार का पनीर इतना बेहतर बनता कैसे है? आखिर बाजार में पनीर बनाने के लिए किन जीचों का इस्तेमाल किया जाता है? तो दोस्तों, बाजार में पनीर बनाने और घर में पनीर बनाने में कोई अलग-अलग विधि काम में नहीं ली जाती है.

हालांकि बाजार में पनीर बनाने में और घर में पनीर बनाने में एक बड़ा फर्क ये रहता है कि बाजार में पनीर ज्यादा मात्रा में बनाया जाता है. जबकि घर में पनीर छोटी मात्रा में बनाया जाता है. इसी कारण कई बार घर में पनीर अच्छे से नहीं बन पाता है. कई लोग ये जानना चाहते हैं कि बाजार में सॉफ्ट और स्पंजी पनीर कैसे बनाया जाता है.

पनीर प्रोटीन का बहुत अच्छा स्रोत है. प्रोटीन के अलावा भी इसमें बहुत से लाभदायक तत्व होते है. आंखों के लिए, दिमाग के लिए और लीवर के लिए भी यह बहुत लाभदायक होता है. इसमें लेक्टोस की मात्रा कम होती है. ऐसे में जो लोग दूध नहीं पी सकते उन्हें पनीर का उपयोग जरूर करना चाहिए. पनीर की सब्जी कई प्रकार से बनाई जाती है. जैसे कढ़ाई पनीर, पालक पनीर, मटर पनीर आदि. पनीर के पराठें या पनीर के पकौड़े भी बहुत चाव से खाए जाते हैं. इसके अलावा पनीर टिक्का या चिली पनीर भी बहुत पसंद किया जाता है.

पनीर बनाने के लिए सबसे पहले उबालकर ठंडा किया हुआ दूध लिया लें. इसके बाद दूध को उबलने तक गरम कर लें. दूध उबल जाने के बाद गैस बंद कर दें. अब दो मिनिट बाद इसमें डेढ़ कप दही डालें. दही डालकर इसे दो मिनिट तक हिलाएं. थोड़ी देर में पनीर अलग होने लगेगा. खटाई डालने के बाद दूध को उबालने से पनीर पककर हार्ड हो सकता है. पनीर बनने के बाद इसे एक मलमल के सफेद कपड़े से छान लें. पनीर छानने के बाद इस पर एक गिलास ठंडा पानी डालें ताकि पनीर पके नहीं. मलमल के कपड़े से पनीर छानने के बाद हाथ से दबाते हुए पानी निकाल दें. पांच मिनिट के लिए लटका दें. इसे ज्यादा देर लटकाने की जरूरत नहीं है. जैसा की अक्सर सभी करते हैं. कपड़े में ही इसे थोड़ा चपटा करके इसे किसी हल्के वजन से दबाकर एक घंटे के लिए रख लें. तो दोस्तों, इसी के साथ सॉफ्ट और स्पंजी पनीर तैयार है. इसे कपड़े से निकालकर फ्रिज में रखें और जब चाहें उपयोग करें.

पनीर बनाते वक्त कुछ बातें काफी ध्यान में रखनी होती है. फुल क्रीम दूध लेने से पनीर ज्यादा स्वादिष्ट, पोष्टिक और सॉफ्ट बनता है. टोंड मिल्क भी ले सकते है. दूध को उबालकर गैस बंद करके दही डालने से पनीर नर्म और मुलायम होता है. वहीं पनीर छानने के लिए कपड़ा रंग निलकने वाला ना हो. पनीर छानने के बाद एक गिलास ठंडा पानी डालने से पनीर के पकने की प्रक्रिया रुक जाती हैं और पनीर नरम रहता है. दही से बनने वाला पनीर सॉफ्ट होता है और इससे दही के पोषक तत्व भी मिलते है.