क्या चल रहा है ?
घर पर क्रिस्पी फ्रेंच फ्राइज बनाने की सीक्रेट रेसिपी | अमित शाह को कौनसी खूबियां बाकी गृहमंत्रियों से अलग बनाती है? | भारतीय सेना के जवान भी इन कुत्तों को सलाम करते हैं...जानिए क्यों | कैसे बनता है खून? शरीर में कमी होने से कैसे बढ़ाएं खून की मात्रा? | बाप रे!! मोदी-शाह भारत को हिंदू राष्ट्र बनाएंगे? | ओवैसी के बारे में क्या सोचते हैं हैदराबादी मुसलमान? | कैसे बनाई जाती है पेंसिल? | फैक्ट्री में कैसे बनता है टोमैटो केचअप? | आलू चिप्स बनाना है आसान, ये रही पूरी प्रोसेस | नमक कैसे बनता है? समुद्र से लेकर आपके घर तक कैसे पहुंचता है? | अगर ये डॉक्युमेंट नहीं है तो NRC में आपकी नागरिकता जा सकती है | कैसी होती है डिटेंशन कैंप में जिन्दगी? | घुसपैठियों से ये भयानक काम करवाएगी मोदी सरकार? | क्या शरणार्थियों को रोजगार और घर दे पाएगी सरकार? | शरणार्थी और घुसपैठिया में क्या है अंतर? | नागरिकता कानून पर भारत उबल रहा है, कौन है इसके लिए जिम्मेदार? | जामिया में पुलिस ने क्यों की लाठीचार्ज? किस तरफ जा रहा है देश? | मोदी-शाह की जोड़ी फेल, राज्यों में लगातार मिल रही है हार | पाकिस्तान और बांग्लादेश में हिंदुओं की स्थिति कैसी है? | नागरिकता संशोधन कानून पर अमेरिका-पाकिस्तान ने भारत को चेताया |

कैसे बनता है खून? शरीर में कमी होने से कैसे बढ़ाएं खून की मात्रा?

दोस्तों, आज हम एक ऐसे शारीरिक हिस्से के बारे में जानेंगे जिसके बिना किसी भी शारीरिक गतिविधि को करना नामुमकिन है. एक ऐसी चीज जिसके बिना शरीर कुछ भी करने में नाकाम होता है. जिसके बिना ना तो आप सोच सकते हैं न ही कुछ काम कर सकते हैं. हम जिस हिस्से की बात कर रहे हैं, वह हमारे शरीर के लिए सबसे जरूरी चीज है. जी हां, हम खून के बारे में ही बात कर रहे हैं. शास्त्रों में खून को जीवन धारा भी कहा गया है. शरीर के हर हिस्से तक ऑक्सीजन पहुंचाना, बॉडी का ताप नियंत्रित रखना, पोषक तत्वों और जल का वितरण करने जैसे जरूरी कामों के साथ प्रतिरक्षात्मक काम भी खून के जरिए ही किया जाता है. लेकिन दोस्तों, क्या आपको पता है कि शरीर में खून बनता कैसे है? चलिए जानते हैं.

खून को बॉयोलॉजिकल भाषा में समझे तो इसे प्लाज्मा भी कहा गया है. प्लाज्मा को खून का मूल आधार माना जाता है. इसी में लाल और सफेद रंग के रक्त कण तैर कर हमारे शरीर को काम करने योग्य बनाते हैं. प्लाज्मा हल्के पीले रंग का तरल पदार्थ होता है. इसमें 90% पानी और 10% में प्रोटीन, फाइब्रिन तंतु, चर्बी और मैग्नीशिया जैसे आवश्यक तत्वों के अलावा लवण, ऑक्सीजन, कार्बनडाइ ऑक्साइड, नाइट्रोजन और यूरिक एसिड भी मौजूद होते हैं. इसका मतलब यह है कि हमारे खून का निर्माण पानी और प्रोटीन से लेकर ऑक्सीजन जैसी चीजों की मदद से हुआ है. हमारे खून में रक्ताणु मौजूद होते हैं, जिनकी मदद से खून में ऑक्सीजन आने जैसी क्रियाएं होती हैं.

रक्त में मौजूद गोल, लम्बे कण रक्ताणु कहलाते हैं. जब ये कण एक-दूसरे से अलग रहते हैं तो इनका रंग पीला दिखाई देता है लेकिन साथ रहने पर ये कण लाल दिखाई देते हैं. इन कणों में हीमोग्लोबिन होने के कारण ही इनका रंग लाल दिखाई देता है. इन कणों का महत्वपूर्ण काम होता है वायु की ऑक्सीजन को आकर्षित करना. अपने इसी गुण के कारण रक्ताणु रक्त रस में ऑक्सीजन को मिला पाते हैं और कार्बन डाइ ऑक्साइड और पानी के गंदे स्वरूप को रक्त से अलग करते हैं.

लेकिन दोस्तों, शरीर में खून की मात्रा कम और ज्यादा भी होती रहती है. अब जानते हैं कि शरीर में खून को कैसे बढ़ाया जाता है. दोस्तों, कुछ पोषक तत्वों से शरीर में खून की मात्रा को बढ़ाया जा सकता है.

अनार
एक अनार हमें सौ बीमारियों से लड़ने की क्षमता देता है. अनार आयरन कैल्शियम, सोडियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम और विटामिन से भरपूर होता है. अनार शरीर में खून की कमी को बेहद जल्द पूरा कर सकता है.

चुकंदर:
चुकंदर शरीर में खून की मात्रा बढ़ाने का रामबाण इलाज है. चुकंदर का जूस लगातार पीने से खून साफ रहता है और शरीर में खून की कमी भी नहीं
होती. चुकंदर में आयरन के तत्‍व अधिक मात्रा में होते हैं, जिससे नया खून जल्दी बनता है.

दोस्तो, इन सबके अलावा खून बढ़ाने के लिए गाजर, अमरूद, सेब, अंगूर, संतरा, टमाटर, हरी सब्जियां और सलाद, सूखे मेवे जैसी चीजें भी खाई जा सकती है. खून बढ़ाने के लिए अच्छा खाना बेहद जरूरी है. दोस्तों, कमेंट कर जरूर बताएं कि खून किस रंग का होता है.