X

2019 में चुनाव जीतने के लिए मोदी ने GST में किया बड़ा हेरफेर, हर भारतीय को ये खबर जाननी जरूरी

2019 में चुनाव जीतने के लिए मोदी ने GST में किया बड़ा हेरफेर, हर भारतीय को ये खबर जाननी जरूरी
पांच राज्यों में चुनावी हार के बाद बीजेपी अब फूंक-फूंक कर कदम रख रही है. क्योंकि कांग्रेस ने हाल ही में विधानसभा चुनाव में बीजेपी की बोलती बंद कर दी है और चुनाव में जीत हासिल कर 2019 के लिए अपने मनसूबे साफ कर दिए. साथ ही राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने अपनी सरकार बनाते ही किसानों के कर्ज माफी को लेकर वादों की पूर्ति भी तुरंत कर डाली. इससे भी बीजेपी बैकफुट पर आ गई है और अब लोगों को लुभाने के लिए अलग-अलग तरकीबें अपना रही हैं. साल 2019 में लोकसभा चुनाव में कांग्रेज जहां वापसी की तैयारी कर रही है तो नरेंद्र मोदी भी अपनी सरकार को बनाए रखने के प्रयास में जुटे हुए हैं. इसलिए नरेंद्र मोदी सरकार लोगों को अब जीएसटी के तरीके से साधने की कोशिश में जुट गई है. विधानसभा चुनाव में हार मिलते हुए मोदी सरकार ने तुरंत जीएसटी की दरों में बदलाव कर दिया है. इसके साथ ही लोगों के लिए कुछ चीजों में छूट भी दे दी गई है. इससे आम आदमी को थोड़ी राहत तो जरूर मिलने वाली है लेकिन इस चुनावी झुनझुने को बीजेपी वाले अब वोटों में तब्दील कर पाते हैं या नहीं ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा लेकिन अभी जान लेते हैं कि आखिर जीएसटी की दरों में बदलाव के बाद क्या-क्या चीजें सस्ती हुई है.... दरअसल, जीएसटी परिषद ने आम लोगों को राहत देते हुए टीवी स्क्रीन, सिनेमा के टिकट और पावर बैंक समेत कई प्रकार की 23 वस्तुओं पर वस्तु एवं सेवा कर यानी जीएसटी की दरों में कमी की घोषणा की है. कर दर में संशोधन का यह फैसला आने वाले नए साल 2019 से प्रभावी होगा. परिषद की 31वीं बैठक के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इन फैसलों की घोषणा की. उन्होंने कहा कि विभिन्न प्रकार की वस्तुओं पर जीएसटी दरें कम करने से सालाना राजस्व में 5500 करोड़ रुपए का असर पड़ेगा. परिषद ने जीएसटी की 28 फीसदी की हाई रेट के दायरे में आने वाली वस्तुओं में से सात को निम्न दर वाले स्लैब में डाल दिया है. इसके साथ ही 28 फीसदी के स्लैब में अब केवल 28 वस्तुएं बची हैं. जेटली ने कहा कि जीएसटी की दरों को तर्कसंगत बनाना एक सतत प्रक्रिया है. उन्होंने कहा कि 28 फीसदी की दर का धीरे-धीरे इटरप्शन हो जाएगा. अगला लक्ष्य परिस्थिति अनुकूल होने के साथ सीमेंट पर जीएसटी में कमी करना है. कम्प्यूटर चलाते हो तो सावधान हो जाओ, मोदी सरकार करवा रही है जासूसी, हो गया बड़ा खुलासा, डेटा में हो सकती है सेंधमारी अब 28 फीसदी की कर दर वाहनों के कल-पुर्जों और सीमेंट के अलावा केवल विलासिता के सामान और अहितकर वस्तुओं पर ही रह गया. वित्त मंत्री ने बताया कि सिनेमा के 100 रुपए तक के टिकटों पर अब 18 फीसदी की बजाय 12 फीसदी की दर से और 100 रुपए से ऊपर के टिकट पर 28 फीसदी की बजाय 18 फीसदी का जीएसटी लगेगा. इसी तरह 32 इंच तक के मॉनिटर और टीवी स्क्रीन पर अब 28 फीसदी की बजाय 18 फीसदी की दर से जीएसटी लगेगा. वास्तुओं पर जीएसटी की संशोधित दरें एक जनवरी, 2019 से लागू होगी. वहीं साल 2019 में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं. लोकसभा चुनाव से पहले नरेंद्र मोदी सरकार लोगों के लिए और भी लुभावनी चीजें सामने ला सकते हैं. ऐसे में आने वाले 3-4 महीने भारतीय नागरिकों के लिए काफी अहम साबित होने वाले हैं. दोस्तों, कमेंट बॉक्स में कमेंट कर जरूर बताएं कि साल 2019 में आप किस पार्टी को जीतवाना चाहते हैं?
News 1
old

News 1

बड़ी खबर
old

बड़ी खबर