मौत के बाद तन जाता है लिंग और होता है वीर्य स्खलन ! जानें मृत्यु से जुड़े रहस्यमयी तथ्य…

दुनिया में सिर्फ एक ही अटल सत्य है और वो सत्य है मौत. हर इंसान की जिंदगी में मृत्यु से जुड़े लम्हें जरूर आने हैं. परिवार में, रिश्तेदारी में किसी न किसी की मौत से आप भी रूबरू हुए होंगे. जिंदगी बिताने में सालों लग जाते हैं लेकिन मौत आने में एक पल भी नहीं लगता है. इस मौत के भी कई रोचक तथ्य हैं जो हर इंसान नहीं जानता होगा. आइए जानते हैं मौत के बारे में खास बातें…

सुनने की शक्ति
मौत होने के बाद धीरे-धीरे शरीर का हर अंग एक-एक कर काम करना बंद कर देता है. हालांकि मौत के बाद कुछ देर तक कान में सुनने की शक्ति बनी रहती है और सबसे आखिर में सुनने की शक्ति खत्म होती है.

नाखून बढ़ना
मरने के बाद अंगुलियों और पैरों के नाखून सूखने और सिकुड़ने लगते हैं. तब ऐसा प्रतीत होता है कि नाखून बढ़ रहे हैं.

शव कितना पुराना
मौत के बाद अगर इस बात का पता लगाना होता है कि शव कितने दिन पुराना है तो इसकी जानकारी मृत शरीर पर मिलने वाले कीड़ों की प्रजातियां देखकर लगाई जाती है.

खाने के तुरंत बाद पीते हैं पानी तो हो जाइए सावधान..! हो सकती है 103 तरह की बीमारियां

वीर्य स्खलन
अगर किसी आदमी को फांसी दी जाती है तो उसका लिंग सख्त हो जाता है. वहीं कभी कभार तो मरने के बाद इससे वीर्य भी निकल जाता है. दरअसल, फांसी दी जाने वाले लोगों की विशेष रूप से लिंग की मांसपेशियां सिकुड़ जाती है और वह तन जाता है. जिस कारण वीर्य स्खलन भी हो जाता है.

खून का जमना
मरने के बाद शरीर का जो अंग जमीन के सबसे करीब होगा, खून का बहाव भी उसी तरफ तेजी से होता जाएगा. इसके बाद फिर उसी जगह खून जम भी जाता है. गुरुत्वाकर्षण बल के कारण इस तरह की क्रिया होती है.

सिर काटने के बाद भी रहती है जान
यदि किसी आदमी का सिर काट दिया जाता है तो उसमें इसके बाद भी 20 सेकंड तक जान रहती है. वहीं अगर किसी व्यक्ति के सिर में गोली लग जाती है तो उसकी तुरंत मौत हो जाती है.

एन्जाइम्स का शरीर को खाना
मनुष्य की मौत के तीन दिन बाद ही डाइजेस्टिव सिस्टम में पाए जाने वाले एन्जाइम्स, जो कि भोजन को पचाने का काम करते हैं, वे ही शरीर को ही खाना शुरू कर देते हैं.

दोस्तों, कमेंट बॉक्स में कमेंट कर जरूर बताएं कि शरीर के किस अंग की मदद से इंसान सांस लेता है.

(Visited 438 times, 1 visits today)

सुझाव कॉमेंट करें

About The Author

आपके लिए :