क्या चल रहा है ?
भारतीय सेना के जवान भी इन कुत्तों को सलाम करते हैं...जानिए क्यों | कैसे बनता है खून? शरीर में कमी होने से कैसे बढ़ाएं खून की मात्रा? | बाप रे!! मोदी-शाह भारत को हिंदू राष्ट्र बनाएंगे? | ओवैसी के बारे में क्या सोचते हैं हैदराबादी मुसलमान? | कैसे बनाई जाती है पेंसिल? | फैक्ट्री में कैसे बनता है टोमैटो केचअप? | आलू चिप्स बनाना है आसान, ये रही पूरी प्रोसेस | नमक कैसे बनता है? समुद्र से लेकर आपके घर तक कैसे पहुंचता है? | अगर ये डॉक्युमेंट नहीं है तो NRC में आपकी नागरिकता जा सकती है | कैसी होती है डिटेंशन कैंप में जिन्दगी? | घुसपैठियों से ये भयानक काम करवाएगी मोदी सरकार? | क्या शरणार्थियों को रोजगार और घर दे पाएगी सरकार? | शरणार्थी और घुसपैठिया में क्या है अंतर? | नागरिकता कानून पर भारत उबल रहा है, कौन है इसके लिए जिम्मेदार? | जामिया में पुलिस ने क्यों की लाठीचार्ज? किस तरफ जा रहा है देश? | मोदी-शाह की जोड़ी फेल, राज्यों में लगातार मिल रही है हार | पाकिस्तान और बांग्लादेश में हिंदुओं की स्थिति कैसी है? | नागरिकता संशोधन कानून पर अमेरिका-पाकिस्तान ने भारत को चेताया | इसरो की कमाई कैसे होती है? कहां से आता है करोड़ों रुपया ? | विदेशों में भी मोदी मैजिक, मोदी के नाम से चुनाव जीत रहे हैं विदेशी नेता! |

गूगल पर ये बात बिल्कुल भी न करें सर्च, हो सकती है जेल!

दुनिया के बदलते परिपेक्ष में गूगल ही हमारा सराहा रहा है. जिसमें समय के हिसाब से अपडेशन तो हुए हैं लेकिन बदलाव नहीं. गूगल अब हमारे लिए ऑक्सीजन जितना जरूरी हो गया है, शायद ही हमारा कोई ऐसा दिन गुजरता हो जिस दिन हम गूगल का इस्तेमाल न करते हों. लेकिन क्या आपको पता है कि हिंदुस्तान में कुछ चीजे ऐसी भी है जिन्हे गूगल पर सर्च करने मात्र से पुलिस और हवालात से आपका सीधा संबंध बन सकता है. चलिए हम आपको बताते हैं कि गूगल पर किन चीजों को सर्च करने के चलते आप जेल जा सकते हैं.

चाइल्ड पोर्न
चाइल्ड पोर्न से मतलब है बच्चों के साथ अमानविय व्यवहार वाली चीजें. हिंदुस्तान में चाइल्ड पोर्न बैन है. मसलन न तो हम बच्चों के साथ कुछ गलत बना सकते हैं और न ही देख सकते हैं. यदि आप अपनी जिज्ञासा मात्र के लिए भी चाइल्ड पोर्न कीवर्ड गूगल पर डालेंगे तो आपको जेल हो सकती है. ऐसा इसलिए भी है क्योंकि हमारे यहां पोर्न को लेकर काफी सख्ती बरती जाती है. हाल ही में सरकार ने कई सैंकड़ों पोर्न वेबसाइट को इंडिया में बैन कर दिया.

बम बनाने के तरीके
दूसरा सबसे खतरनाक और पुलिस की रडार पर आने वाला कीवर्ड है ‘बम बनाने के तरीके’. गूगल पर यदि आप बम बनाने के तरीके से जुड़े कीवर्ड को सर्च करेंगे तो पुलिस आपको रडार पर ले लेगी. हर डिवाइस चाहे वह कंप्यूटर हो या मोबाइल, उसका आईपी एड्रेस होता है. तो बस फिर पुलिस को आपका आईपी एड्रेस सर्च करना है और आप उनकी नजर में रहेंगे.

सुसाइड
इस शब्द का मतलब है आत्महत्या, जो गैरकानूनी है. इस शब्द को आप गूगल पर डालेंगे तो आपको एक नंबर नजर आएगा. यदि आपने उस नंबर पर कॉल कर लिया तो पुलिस आप तक जरूर पहुंच जाएगी. मसलन आपको जेल और जुर्माना दोनो भरना होगा. इसलिए इस शब्द को तो गलती से भी गूगल पर तलाशने की कोशिश न करें.

साइबर फ्राड
अब आता है, साइबर क्राइम. मसलन ऑनलाइन चोरी. इस कीवर्ड को जब आप गूगल पर सर्च करते हैं तो भी आप पुलिस की रडार में आ जाते हैं. क्योंकि साइबर क्राइम को लेकर देश में कानून काफी सख्त हो गए हैं. साथ ही इंटरनेट पर किसी भी गलत चीज को सर्च करना आपके लिए मुसीबत भरा हो सकता है.

अब आप सोच रहे होंगे की सर्च मात्र करने से जेल कैसे हो सकती है, तो हम आपको बता दें कि हिंदुस्तान की जितनी भी खुफिया एजेंसियां है वह सब हम इंटरनेट यूजर्स पर नजर बना कर रखती हैं. एक बार जहां उन्हें हम पर संदेह करने का मौका मिला, वह हम पर नजर रखना तेज कर देती  हैं. नतीजन पुलिस हमें रडार पर ले लेती है जिसका अंत जेल से होता है. तो अब गूगल का इस्तेमाल करते समय थोड़ा सतर्क हो जाएं क्योंकि जो भी हम सर्च करते हैं, वह सब गूगल के डाटाबेस में इकट्ठा हो रहा होता है. जो कभी न कभी हमारे लिए प्रोबल्म खड़ी कर सकता है. दोस्तों, आखिर में कमेंट कर जरूर बताएं कि वह कौन भारतीय है जो गूगल का सीईओ है?