फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ में छुपा है कांग्रेस का ऐसा राज, जिसे जनता आजतक नहीं जान पाई, मोदी भी हैं हैरान!

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर आधारित फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का ट्रेलर रिलीज हो गया. इस ट्रेलर में मनमोहन सिंह को सोनिया गांधी के जरिए प्रधानमंत्री बनाए जाने के बाद देश पर उठने वाले सवालों के जवाब देते नजर आएंगे. इतना हीं नहीं, सोनिया गांधी को इस फिल्म में निगेटिव किरदार में दिखाया गया है. मनमोहन के किरदार में अनुपम खेर बोलते है कि देश के विकास के लिए हमको न्यूक्लियर एनर्जी चाहिए, वहीं सोनिया गांधी का मानना होता है कि यह पार्टी के लिए स्वीकार नहीं है. फिलहाल इस फिल्म ने कश्मीर मुद्दे पर भी सवाल उठाया है. राहुल गांधी, प्रियंका गांधी के किरदारों को भी इस फिल्म में दिखाया जाएगा. हालांकि फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का ट्रेलर लॉन्च होने के बाद से ही अब विवाद गहराता दिख रहा है.

देखें वीडियो-

कांग्रेस नेताओं ने अनुपम खेर अभिनीत फिल्म एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर को अपनी पार्टी के खिलाफ भाजपा का दुष्प्रचार करार दिया और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने इस फिल्म को लेकर कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. कांग्रेस नेताओं ने कहा कि भाजपा का यह दुष्प्रचार काम नहीं करेगा और सच की जीत होगी. फिल्म से जुड़े भाजपा के एक ट्वीट के जवाब में कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा का यह दुष्प्रचार हमें मोदी सरकार से ग्रामीण क्षेत्र की समस्याओं, बेरोजगारी, नोटबंदी का त्रासदी, जीएसटी को गलत ढंग से लागू करने, अर्थव्यवस्था की स्थिति और भ्रष्टाचार पर मोदी सरकार से सवाल करने से नहीं रोक सकता. वहीं राजस्थान के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने कहा कि कांग्रेस के खिलाफ यह दुष्प्रचार काम नहीं करेगा और सच की जीत होगी. पार्टी नेता पीएल पुनिया ने कहा कि यह अपनी नाकामी छिपाने के लिए मोदी सरकार की ओर से अपनाया गया हथकंडा है.

बच्चे पैदा करने पर लगी रोक, अब बच्चा पैदा करना होगा गैर कानूनी?

वहीं ऐक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर को अपने जीवन का बेहतरीन प्रदर्शन करार देते हुए अभिनेता अनुपम खेर ने कहा कि वह पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर आधारित इस फिल्म पर बढ़ते विवाद के चलते पीछे नहीं हटेंगे. इस फिल्म में सिंह का किरदार निभाने वाले अभिनेता ने फिल्म को रिलीज होने से रोकने की महाराष्ट्र युवा कांग्रेस की धमकी पर भी यह कहते हुए चुटकी ली कि उसे तो खुश होना चाहिए कि उनके नेता पर फिल्म बनायी गयी है. महाराष्ट्र युवा कांग्रेस ने का है कि जबतक यह फिल्म उसे नहीं दिखायी जाएगी, तब तक वह उसे रिलीज नहीं होने देगी.

अनुपम खेर ने ट्वीट किया कि मैं पीछे नहीं हटने जा रहा हूं. यह मेरे जीवन का शानदार काम है. डॉ. मनमोहन सिंह इस फिल्म को देखने के बाद सहमत होंगे कि यह शत प्रतिशत सही है. फिल्म 2004-2008 तक सिंह के मीडिया सलाहकार रहे संजय बारु की इसी नाम की पुस्तक पर आधारित है. उसमें सिंह को 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले सिंह को कांग्रेस की अंदरुनी राजनीति के शिकार के रूप में दिखाया गया है. फिल्म के ट्रेलर पर कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उसने इसे प्रोपेगैंडा फिल्म करार दिया है. पार्टी की महाराष्ट्र युवा शाखा ने फिल्म के निर्माताओं से उसके लिए विशेष स्क्रीनिंग कराने की मांग की है.

खेर ने यह भी जिक्र किया कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हाल ही में कहा था कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता मौलिक अधिकार है. राहुल गांधी ने नेटफ्लिक्स सीरीज सेक्रेड गेम्स में अपने पिता दिवंगत प्रधानमंत्री राजीव गांधी की व्याख्या करने के लिए इस्तेमाल की गयी भाषा पर पार्टी के नेता के जरिए आपत्ति जताए जाने पर ऐसा कहा था. फिल्म 11 जनवरी 2019 को रिलीज होगी.

दोस्तों, कमेंट बॉक्स में कमेंट कर जरूर बताएं कि मनमोहन सिंह पर बनी ये फिल्म आप देखना चाहेंगे या नहीं?

(Visited 467 times, 1 visits today)

आपके लिए :