क्या चल रहा है ?
घर पर क्रिस्पी फ्रेंच फ्राइज बनाने की सीक्रेट रेसिपी | अमित शाह को कौनसी खूबियां बाकी गृहमंत्रियों से अलग बनाती है? | भारतीय सेना के जवान भी इन कुत्तों को सलाम करते हैं...जानिए क्यों | कैसे बनता है खून? शरीर में कमी होने से कैसे बढ़ाएं खून की मात्रा? | बाप रे!! मोदी-शाह भारत को हिंदू राष्ट्र बनाएंगे? | ओवैसी के बारे में क्या सोचते हैं हैदराबादी मुसलमान? | कैसे बनाई जाती है पेंसिल? | फैक्ट्री में कैसे बनता है टोमैटो केचअप? | आलू चिप्स बनाना है आसान, ये रही पूरी प्रोसेस | नमक कैसे बनता है? समुद्र से लेकर आपके घर तक कैसे पहुंचता है? | अगर ये डॉक्युमेंट नहीं है तो NRC में आपकी नागरिकता जा सकती है | कैसी होती है डिटेंशन कैंप में जिन्दगी? | घुसपैठियों से ये भयानक काम करवाएगी मोदी सरकार? | क्या शरणार्थियों को रोजगार और घर दे पाएगी सरकार? | शरणार्थी और घुसपैठिया में क्या है अंतर? | नागरिकता कानून पर भारत उबल रहा है, कौन है इसके लिए जिम्मेदार? | जामिया में पुलिस ने क्यों की लाठीचार्ज? किस तरफ जा रहा है देश? | मोदी-शाह की जोड़ी फेल, राज्यों में लगातार मिल रही है हार | पाकिस्तान और बांग्लादेश में हिंदुओं की स्थिति कैसी है? | नागरिकता संशोधन कानून पर अमेरिका-पाकिस्तान ने भारत को चेताया |

मोदी-शाह की जोड़ी फेल, राज्यों में लगातार मिल रही है हार

लोकसभा चुनाव 2019 से पहले बीजेपी राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में सरकार गंवा चुकी थी. इससे पहले पंजाब में भी बीजेपी को तगड़ा झटका लगा था.

साल 2019 के लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी के बूते बीजेपी देश में 300 से ज्यादा सीटें जीत कर आई और एक बार फिर केंद्र में पूर्णबहुमत की सरकार बनाई. केंद्र में सरकार बनाने के बाद भी मोदी-शाह की जोड़ी का नॉन स्टॉप एक्शन जारी है लेकिन दूसरी तरफ बीजेपी के हाथों से राज्यों की सत्ता फिसलती जा रही है. एक के बाद एक कई बड़े राज्यों की सरकार बीजेपी के हाथ से निकल गई.

लोकसभा चुनाव 2019 से पहले बीजेपी राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में सरकार गंवा चुकी थी. इससे पहले पंजाब में भी बीजेपी को तगड़ा झटका लगा था. वहीं लोकसभा चुनाव के बाद महाराष्ट्र जैसा बड़ा राज्य भी बीजेपी के नाक के नीचे से निकल गया. इन सब राज्यों से भगवा सुरूर उतरने के बाद सामने आया कि बीजेपी के शासन से देश के राज्यों का एक बड़ा हिस्सा निकल चुका है. लेकिन इसके पीछे कारण क्या है?

बीजेपी का विजयरथ 2018 से रुकना शुरू हुआ. मार्च 2018 की बात करें तो उस दौरान बीजेपी देश के कुल 21 राज्यों में शासन कर रही थी और देशभर में ही एक तरह से मोदी लहर की स्थिति थी. फिर 2018 के आखिर से बीजेपी कई राज्यों में सिमटती हुई दिखाई दी. 2019 में हरियाणा में भी बीजेपी अपने दम पर सत्ता में नहीं आ सकी है. 2018 में जम्मू-कश्मीर से लेकर आंध्र प्रदेश और अरुणाचल तक में शासन करने वाली बीजेपी देश के राजनीतिक नक्शे पर तेजी से सिमटी है. मौजूदा स्थिति की बात करें तो यूपी ही एकमात्र ऐसा बड़ा राज्य है, जहां वह अपने दम पर शासन कर रही है.

हालांकि एक साल में बीजेपी जिन राज्यों में सत्ता से बाहर हुई है, वो संख्या बहुत ज्यादा नहीं है. लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि बीजेपी देश के बड़े राज्यों महाराष्ट्र, राजस्थान और मध्य प्रदेश में हारी है. ये ऐसे राज्य हैं, जिनमें बीजेपी और उसके सहयोगी दलों की पकड़ मजबूत रही है. इन राज्यों की जनसंख्या भी दूसरे कई राज्यों के मुकाबले काफी ज्यादा है. 2011 जनगणना के आंकड़ों के हिसाब से बात करें तो 2018 में बीजेपी जिन राज्यों में सरकार में थी, वहां की कुल आबादी करीब 84 करोड़ थी. यानी देश की कुल जनसंख्या का 70 फ़ीसदी. वहीं महाराष्ट्र चुनाव में हार के बाद बीजेपी की राज्य सरकारें देश की कुल 47 फीसदी आबादी पर राज कर रही हैं. यानी 2018 से करीब 23 फीसदी की गिरावट.

वहीं राज्यों में बीजेपी के कमजोर होने की वजहों की तरफ नजर डाली जाए तो जनता राज्य के नेताओं से प्रभावित होती है. राज्य में नेता अगर लोगों की समस्याओं का निपटारा नहीं करती तो जनता भी उनके विरोध में उतर आती है. वहीं पिछले कुछ वक्त से राज्यों में बीजेपी शासन द्वारा लोगों की मांगे न मानने से भी जनता का आक्रोश देखा गया है.

इसके साथ ही बीजेपी के आलाकमान का केंद्र की राजनीति पर जितना ध्यान है उतना ध्यान राज्यों की राजनीति पर नहीं है. जिसके कारण कमजोर चुनाव प्रचार के चलते भी बीजेपी राज्यों में सिमटती दिखाई दे रही है. दोस्तो, कमेंट कर जरूर बताएं कि भारत का वर्तमान प्रधानमंत्री कौन है?