Home Fun सोशल मीडिया की दुनिया में छाया केरल का ऑटो ड्राइवर, जानें किस वजह से हुआ ऐसा

सोशल मीडिया की दुनिया में छाया केरल का ऑटो ड्राइवर, जानें किस वजह से हुआ ऐसा

by GwriterP

अक्सर आपने ऑटो, ट्रक या किसी वाहन के पीछे कुछ ऐसा लिखा हुआ देखा होगा, जिस पर आप खूब हंसे होंगे. इन दिनों एक बार फिर एक शख्स इसलिए सुर्खियां बटोर रहा है क्योंकि उसने भी अपने ऑटो पर कुछ लिखा था, जिसकी हर तरफ चर्चा हो रही है. ? सोशल मीडिया: इस ऑटो की जमकर चर्चा हो रही है. सोशल मीडिया के वायरल होने पर दुनिया में कुछ कहा नहीं जा सकता है.

दरअसल सोशल मीडिया पर कुछ पोस्ट तो इतने दिलचस्प होते हैं कि उनका वायरल होना लाजमी है. इन दिनों एक ऐसा ही पोस्ट लोगों की दिलचस्पी का कारण बन गया है. दरअसल हम जिस पोस्ट की बात कर रहे हैं वह मशहूर लेखक पाउलो कोएल्हो की है। दरअसल, इन दिनों जो फोटो ध्यान खींच रही है उसमें एक ऑटो पर पाउलो कोएल्हो का नाम लिखा है और नाम के नीचे मलयालम में ‘अलकेमिस्ट’ लिखा हुआ है.

अब यह सोशल मीडिया पोस्ट इंटरनेट की दुनिया में जमकर वायरल हो रहा है। पाउलो कोएल्हो ने खुद इस तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा, “केरल, भारत (फोटो के लिए बहुत धन्यवाद)।” फोटो में दिख रहे ऑटो की नंबर प्लेट से पता चलता है कि वाहन एर्नाकुलम के ओटीओ प्राधिकरण में पंजीकृत है। हालांकि ऑटोरिक्शा मालिक केए प्रदीप ट्विटर पर सक्रिय नहीं हैं। लेकिन जब उनके दोस्तों ने उन्हें उनके ऑटो ट्वीट के बारे में बताया तो वह रोमांचित हो गए।

यहां देखें वायरल पोस्ट-

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस पोस्ट को देख कई लोग प्रदीप की जमकर तारीफ करने लगे. एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक प्रदीप को किताबें पढ़ने का शौक है. इसी शौक के चलते 55 साल के प्रदीप ने पाउलो कोएल्हो की 10 किताबें पढ़ी हैं जैसे द ज़हीर मिनट्स, वेरोनिका डिसाइड्स टू डाई, द पिलग्रिमेज आदि। प्रदीप 25 साल से ऑटोरिक्शा चला रहे हैं, जिसे वे ‘अलकेमिस्ट’ कहते हैं।

कई लेखक, पाठक, फिल्म निर्देशक उनके ऑटो में यात्रा कर चुके हैं जहां उन्होंने किताबों पर विस्तार से चर्चा की है। जब उनके ऑटो की फोटो वायरल हुई तो प्रदीप काफी हैरान रह गए. उन्होंने कहा, ‘यह मेरे लिए बहुत बड़ा सरप्राइज था। मैं यह जानकर उत्साहित हूं कि मेरे पसंदीदा लेखक ने मेरे ऑटोरिक्शा के बारे में ट्वीट किया।’ पूरी दुनिया में जमकर पढ़ा, लेकिन उनकी किताबों के लिए दीवानगी, जो प्रदीप में देखने को मिली, कम ही देखने को मिलती है।

Related Articles

Leave a Comment