Home Trending महामारी के चलते लोगों की मदद के लिए शख्स ने नाव को ही बना दिया एंबुलेंस, PPE किट, स्ट्रेचर, व्हीलचेयर की भी होगी सुविधाएं

महामारी के चलते लोगों की मदद के लिए शख्स ने नाव को ही बना दिया एंबुलेंस, PPE किट, स्ट्रेचर, व्हीलचेयर की भी होगी सुविधाएं

by GwriterR

जम्मू व कश्मीर के तारिक़ अहमद पतलू (Tariq Ahmad Patloo) , जिन्होंने श्रीनगर (Srinagar) की डल झील (Dal Lake) पर तारिक अहमद पतलू ने नाव को ही एंबुलेंस बना दिया, जिसके जरिए तारिक अहमद कोविड-19 (Covid-19) के मरीजों को एक जगह से दूसरी जगह लाने ले जाने में उनकी मदद करते हैं।

Post Credit to ANI

कोरोनावायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) से देश जूझ रहा है. ऐसे में बहुत से लोग हैं, जो लोगों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं. उन्हीं में से एक हैं, जम्मू व कश्मीर के तारिक़ अहमद पतलू (Tariq Ahmad Patloo) , जिन्होंने श्रीनगर (Srinagar) की डल झील (Dal Lake) पर नाव को ही एंबुलेंस बना डाला है. जिसके जरिए तारिक अहमद कोविड-19 के मरीजों (Covid 19 Patient) को एक जगह से दूसरी जगह लाने ले जाने में उनकी मदद करते हैं. तारिक़ ने यह काम तब शुरू किया जब वह खुद कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) हो गए थे और नकी मदद के लिए कोई आगे नहीं आया।

जब वह कोरोना पॉजिटिव हुए तो किसी ने भी उन्हें अस्पताल ले जाने में मदद नहीं की, ऐसे में वह जब ठीक हुए तो उन्होंने फैसला किया कि वह एक एंबुलेंस बनाएंगे जो डल झील के जरिए लोगों को अस्पताल पहुंचाने में उनकी मदद करेगी. इस फ्लोटिंग एंबुलेंस को बनाने में तारिक को बहुत से दिक्कतें भी हुईं. लेकिन, उनकी मेहनत रंग लाई और वह इस कामयाब हुए. उन्होंने कहा कि वह आज डल झील के रास्ते मरीज़ों को अस्पताल पहुंचाने में मदद कर रहे हैं.

Post Credit ANI

उन्होंने अपने ही खर्चे पर नाव पर इस फ्लोटिंग एंबुलेंस (Floating Ambulance) को तैयार किया और आज वह डल झील के पास रहने वाले लोगों को फ्री में इमरजेंसी के दौरान अस्पताल पहुंचाने में मरीज़ों की मदद कर रहे हैं. वह कहते हैं, “कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण अस्पतालों और घरों में स्थिति को देखते हुए, मैंने लोगों के लिए यह सुविधा स्थापित की है, जिसमें पीपीई किट, स्ट्रेचर और व्हीलचेयर हैं.”

Related Articles

Leave a Comment