क्या चल रहा है ?
ट्रंप भी खड़े होकर ताली बजाने लगे - आखिर मोदी ने ऐसा क्या बोला - Howdy Modi | टूरिज्म के लिहाज से बिहार का गया क्यों बन चुका है इतना खास? | घर बैठकर आसानी से कैसे बुक करें फ्लाइट टिकट?... | घर बैठकर ऑनलाइन कैसे बुक करें रेल टिकट? | जानिए 2019 Honda Activa 125 कैसी है? | BCA-MCA करने से क्या फायदा है? | कुछ लोग बाएं हाथ का इस्तेमाल क्यों करते हैं? | क्या है परिवहन से जुड़ी हाइपरलूप तकनीक... | बॉलीवुड को मिली दूसरी लता मंगेशकर, गरीबी में कुछ ऐसी थी रानू मंडल की जिंदगी | क्या है 5G तकनीक? कैसे करती है काम? | सिर्फ 5 लाख रुपये से CCD के मालिक सिद्धार्थ ने कैसे खड़ा किया अरबों का कारोबार? | पाकिस्तानी दुश्मन के हाथ की घड़ी का वक्त भी देख लेगा भारत का ये सैटेलाइट | अनुच्छेद 370: अमित शाह ने इस बड़े कारण से लद्दाख को कश्मीर से अलग किया? | प्रधानमंत्री 15 अगस्त को लाल किले पर ही क्यों फहराते हैं तिरंगा? | भारत को 15 अगस्त 1947 की रात 12 बजे ही आजादी क्यों मिली? | पाकिस्तान 15 अगस्त को आजाद हुआ लेकिन 14 अगस्त का क्यों मनाता है स्वतंत्रता दिवस? | बिहार के रवीश कुमार ने नरेंद्र मोदी की बोलती की बंद! मिला रेमन मैग्सेसे अवार्ड | चांद पर एलियन का पता लगाएगा भारत का चंद्रयान-2? | चंद्रयान-2: अगर भारत को चांद पर मिली ये चीज तो दुनिया पर करेगा राज | लिफ्ट से चांद पर पहुंचना होगा आसान, चंद्रयान जैसे मिशन की भी जरूरत नहीं? |

PM मोदी कर सकते है सऊदी अरब की यात्रा: पाकिस्तान की बढ़ सकती है चिंता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के October month के अंत तक सऊदी अरब जाने की अटकले है। जहां एक निवेश सम्मेलन का आयोजन होना है। जिसमें वो शामिल होंगे। हालांकि, वो किस तारीख को जा रहें है, इसकी आधिकारिक पुष्टि अभी तक नहीं हुई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के October month के अंत तक सऊदी अरब जाने की अटकले है। जहां एक निवेश सम्मेलन का आयोजन होना है। जिसमें वो शामिल होंगे। हालांकि, वो किस तारीख को जा रहें है, इसकी आधिकारिक पुष्टि अभी तक नहीं हुई है। पीएम मोदी वैसे भी अपनी विदेश यात्राओं को लेकर काफी चर्चा में रहते है। जल्द ही अमेरिका में हुए Howdy Modi show को भला कैसे भुलाया जा सकता है। जिसने फिल्मी सितारों की चमक को भी फीका कर दिया था।

जल्द ही 2 October को देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी वहाँ गए थे। इस विदेश दौरे से भारत और सऊदी अरब के बीच रिश्तें के और मजबूत होने की उम्मीद है। वैसे सऊदी अरब राजनीतिक और व्यापारिक दृष्टि से हमेशा से ही भारत के लिए खास रहा है। इतना तो हम सभी जानते है कि सऊदी अरब ही पूरी दुनिया में कच्चे तेल का सबसे बड़ा निर्यातक है। अब उम्मीद जताई जा रही है कि सऊदी अरब भारत में petro-chemicals और Infrastructure के साथ- साथ mining sector में 100 अरब डॉलर तक का निवेश कर सकता है।

दोस्तों, बता दें कि सऊदी अरब की सबसे बड़ी तेल कंपनी अरामको पहले ही Reliance के साथ Oil Sector में सहयोग का समझौता कर चुकी है। यहाँ हम बात सिर्फ दोनों देशों के बीच व्यापारिक संबंधों पर ही नहीं कर रहें है, बल्कि दोनों के बीच अब सैन्य संबंध भी मजबूत हो रहा है। जिसकी मदद से चरमपंथ को रोकने में मदद मिलेगी। इस दौरे पर पीएम मोदी सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान से मिलेंगे।

हालांकि, एक समय पर सऊदी अरब कभी पाकिस्तान का सबसे बड़ा मददगार और करीबी रहा था। पर अब स्थिति बदलती जा रही है। भारत के साथ इसकी नजदीकीय पाकिस्तान की आँखों में किरकिरी बनी हुई है। पाकिस्तान के साथ सऊदी अरब के रिश्तें में खटास का दौरा उस वक़्त शुरू हुआ था, जब अमेरिकी सैनिको द्वारा ओसामा बिन लादेन मारा गया था। सऊदी अरब ने माना कि पाकिस्तान उन 'आतंकवादियों' को अपनी जमीन पर शरण देता है जो सऊदी अरब के विरोधी हैं। पाकिस्तान को लाखों Dollars की मदद देने के बाद जब सऊदी अरब को यमन में युद्ध के लिए सैनिकों की ज़रूर थी, तब पाकिस्तान ने उसकी मदद में ज्यादा रुचि नहीं दिखाई। इस घटना ने दोनों के रिश्तों को कमजोर किया

दूसरी तरफ भारत के साथ सऊदी अरब के रिश्तों को देखा जाए तो ये वक़्त के साथ मजबूत होते दिख रहा है। पीएम मोदी पिछली बार 2016 में सऊदी अरब गए थे, जहां उन्हें सर्वोच्च नागरिक सम्मान से नवाजा गया था। ये अपने आप में भारत के लिए एक बड़ी कामियाबी है। इतना ही नहीं कश्मीर और धारा 370 हटने के मुद्दे पर पाकिस्तान जो दुनिया-जहान घूम-घूमकर मुस्लिम देशों का support हासिल करने की कोशिश कर रहा था, उससे सऊदी अरब ने मुंह फेर लिया है।

भारत की तस्वीर को बिगाड़ने वाले पाकिस्तान को इस बात से ज़ोर का झटका लगा होगा कि सऊदी अरब भारत में 100 अरब डॉलर तक के निवेश पर विचार कर रहा है। दरअसल, कर्ज में डूबे पाकिस्तान को हर तरफ से आजकल आर्थिक मदद की उम्मीद रहती है। तो ऐसे में अब वहाँ की इमरान सरकार क्या करेगी, ये तो वोही बेहतर जानते होंगे। 

 

***********