क्या चल रहा है ?
ट्रंप भी खड़े होकर ताली बजाने लगे - आखिर मोदी ने ऐसा क्या बोला - Howdy Modi | टूरिज्म के लिहाज से बिहार का गया क्यों बन चुका है इतना खास? | घर बैठकर आसानी से कैसे बुक करें फ्लाइट टिकट?... | घर बैठकर ऑनलाइन कैसे बुक करें रेल टिकट? | जानिए 2019 Honda Activa 125 कैसी है? | BCA-MCA करने से क्या फायदा है? | कुछ लोग बाएं हाथ का इस्तेमाल क्यों करते हैं? | क्या है परिवहन से जुड़ी हाइपरलूप तकनीक... | बॉलीवुड को मिली दूसरी लता मंगेशकर, गरीबी में कुछ ऐसी थी रानू मंडल की जिंदगी | क्या है 5G तकनीक? कैसे करती है काम? | सिर्फ 5 लाख रुपये से CCD के मालिक सिद्धार्थ ने कैसे खड़ा किया अरबों का कारोबार? | पाकिस्तानी दुश्मन के हाथ की घड़ी का वक्त भी देख लेगा भारत का ये सैटेलाइट | अनुच्छेद 370: अमित शाह ने इस बड़े कारण से लद्दाख को कश्मीर से अलग किया? | प्रधानमंत्री 15 अगस्त को लाल किले पर ही क्यों फहराते हैं तिरंगा? | भारत को 15 अगस्त 1947 की रात 12 बजे ही आजादी क्यों मिली? | पाकिस्तान 15 अगस्त को आजाद हुआ लेकिन 14 अगस्त का क्यों मनाता है स्वतंत्रता दिवस? | बिहार के रवीश कुमार ने नरेंद्र मोदी की बोलती की बंद! मिला रेमन मैग्सेसे अवार्ड | चांद पर एलियन का पता लगाएगा भारत का चंद्रयान-2? | चंद्रयान-2: अगर भारत को चांद पर मिली ये चीज तो दुनिया पर करेगा राज | लिफ्ट से चांद पर पहुंचना होगा आसान, चंद्रयान जैसे मिशन की भी जरूरत नहीं? |

पाकिस्तामन के F-16 को टक्कर देने के लिए अब भारत में भी आ गया है राफेल विमान

अमेरिका में निर्मित F-16 लड़ाकू विमान हासिल करने के बाद पाकिस्तान के होशले बुलंद हो गए थे। लेकिन अभी तक खुद को मजबूत समझने वाली पाकिस्तानी वायुसेना को भारत की तरफ से एक ज़ोरदार झटका लगने वाला है। दरअसल, भारत के लिए एक नई खुशखबरी यह आई है कि बीते मंगलवार को ही, यानि दशहरा के अवसर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने देश की वायुसेना को राफेल विमान का तोहफा दिया।

अमेरिका में निर्मित F-16 लड़ाकू विमान हासिल करने के बाद पाकिस्तान के होशले बुलंद हो गए थे। लेकिन अभी तक खुद को मजबूत समझने वाली पाकिस्तानी वायुसेना को भारत की तरफ से एक ज़ोरदार झटका लगने वाला है। दरअसल, भारत के लिए एक नई खुशखबरी यह आई है कि बीते मंगलवार को ही, यानि दशहरा के अवसर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने देश की वायुसेना को राफेल विमान का तोहफा दिया।

राजनाथ सिंह ने बकायदा विधिवत रूप से इस विमान की शस्त्र पूजा की। जिस दौरान उन्होंने राफेल विमान पर ऊँलिखा और विमान के पहिया के नीचे नींबू रखने का पारंपरिक काम किया। इस तरह विमान की पूजा-पाठ करने के बाद उन्होंने आधे घंटे के करीब इसमें उड़ान भी भरी। दोस्तों, बता दें कि ये वोही राफेल विमान है, जिसका नाम सामने आते ही मीडिया से लेकर राजनीतिक गलियारों में हलचल मच जाती थी। राफेल विमान से पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का रिश्ता इतना गहरा हो चुका है कि अब इसकी याद आते ही राहुल गांधी का नाम भी खुद पर खुद याद आ जाता है। खैर इस बर हम आपका ध्यान राहुल गांधी की ओर नहीं ले जाएंगे।

ये खबर तो जुड़ी है देश व वायुसेना की एक बड़ी जीत से। एक लंबे इंतजार के बाद आखिरकार भारत को अपना पहला फ्रांसीसी लड़ाकू विमान राफेल मिल ही गया। ये विमान “दसॉल्ट कंपनी से खरीदा गया है। जिसको भारत ने कुल 36 राफेल विमान का ऑर्डर दिया है। ये सारे विमान भारत को उपलब्ध करवाने के लिए कंपनी के पास सितंबर, 2022 तक का आखिरी समय है।

भारत ने फ्रांस के साथ 59 हजार करोड़ रुपये में इस डील को पूरा किया है। अभी तो भारत को अपना पहला राफेल विमान ही मिला है। जोकि, सिर्फ आधिकारिक हैंडओवर है। ये विमान अभी फ्रांस में ही रहेगा, जहां जवानों को इसकी ऑपरेशनल ट्रेनिंग दी जाएगी। फरवरी 2021 तक यह पूर्ण रूप से ऑपरेशनल होंगे और एक बार राफेल के ऑपरेशनल होते ही पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान से लेकर चीन को भी इससे कड़ी टक्कर मिलने वाली है। पाकिस्तान जोकि भारत को अपने एफ़16 का दम दिखाते आ रहा है, अब वो भारत के इस राफेल का दम भी देखेगा। इस विमान में 24500 Kg. भार ढोने की ताकत है और ये एक साथ 125 राउंड गोलियां दाग सकता हैं। इस हिसाब से राफेल की शक्ति को रोकने के लिए पाकिस्तान के दो F16 विमान की ज़रूरत पड़ेगी। बता दें कि भारत को मिला राफेल घातक मिसाइलों और सेमी स्‍टील्‍थ तकनीक से लैस है।

राफेल विमान की बड़ी खासियत यह है कि 2,223 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से उड़ने वाला यह विमान एक मिनट में 60 हजार फुट की ऊंचाई तक जा सकता है। यह किसी भी प्रकार के मौसम में काम करने को सक्षम है। 17 हजार किलोग्राम तक इसकी फ्यूल कपैसिटी है। इस विमान में लगने वाली स्काल्प मिसाइल जमीन पर 600 किमी तक हमला कर सकती है। जबकि विमान की मारक क्षमता 3700 किलोमीटर तक है। राफेल विमान परमाणु अटैक, क्लोज एयर सपॉर्ट से लेकर लेजर डायरेक्ट लॉन्ग रेंज मिसाइल अटैक करने में माहिर है।

तो उम्मीद की जा सकती है कि भारतीय वायुसेना की इस ताकत और राफेल विमान की इतनी खूबियों के बाद पाकिस्तान चिंता में पड़ने वाला है। पाकिस्तान के साथ ही साथ उसके हमदर्द दोस्त चीन के ऊपर भी इसका असर हो सकता है, जो आयदिन अपनी शक्ति का प्रदर्शन करने में व्यस्त रहता है और खुद को दुनिया की सुपर पावर बनाने का प्रयास में है।

**********